अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कानपुरः कैंट में पकड़ा गया संदिग्ध पाकिस्तानी नागरिक

पकड़ा गया संदिग्ध एहसान

कैंट में पकड़े गए संदिग्ध पाकिस्तानी एजेंट की गतिविधियां स्लीपिंग मॉड्यूल जैसी हैं। उसके रहन-सहन और पागलपन के तरीके को स्लीपिंग मॉड्यूल जैसा बताया जा रहा है। सीओ कैंट के मुताबिक सेना का दावा है कि उसका मानसिक संतुलन पूरी तरह ठीक है। इसी के चलते संदिग्ध के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है। जरूरत पड़ी तो उसे रिमांड पर लेकर दोबारा पूछताछ की जाएगी।
संदिग्ध की डायरी में उसका नाम एहसान जफर खान लिखा है। भाइयों का नाम एहसान खान, नईम खान, जफर खान, फैजान खान, वाहिद खान, तारिक खान, शाहिर और तहसीम खान लिखा है। पिता का नाम सैय्यद मोहम्मद खान और दादा मोहम्मद अली जिन्ना के साथ पता सेक्टर 9-बी, फेज-3 लाहौर पाकिस्तान। इसके साथ ही डायरी में लाहौर पाकिस्तान कम टू इंडिया टुडे भी लिखा है। मोबाइल नंबर को पेन से काट दिया गया है। अंतिम तीन लाइनों में ज्वाइन द पाकिस्तानी आर्मी थर्ड सेक्शन-28-08-14 के साथ खान रेजीमेंट बटालियन नंबर-4 बाघा बॉर्डर पाकिस्तान हरे पेन से लिखा है। इसके साथ ही डायरी के एक पेज पर छह युवतियों का फोटो लगा होने के साथ ही उनका नाम भी लिखा है। पुलिस और जांच एजेंसियां फर्रुखाबाद और पाकिस्तान के पते में उलझकर रह गई हैं। इसके साथ ही एक्सपर्ट से डायरी की जांच करा रही है। सीओ ने बताया कि संदिग्ध युवक को पुलिस और सेना ने क्लीन चिट नहीं दी है। उसकी गतिविधियां स्लीपिंग मॉड्यूल जैसी लग रही हैं। इसलिए एफआईआर दर्ज करने के साथ ही गहनता से जांच की जा रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Kanpur Suspected Pakistani citizens caught in Cantt