DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कानपुरः श्रमिक हितों का गला घोंट रही है केन्द्र और प्रदेश सरकार

श्रमिकों को संबोधित करते कांग्रेस सपा और इंटक के नेता

कांग्रेस और इंटक नेताओं ने रविवार को घंटाघर में श्रमिकों के मन की बात कार्यक्रम में केन्द्र सरकार पर जमकर हमला बोला। पूर्व सांसद राजाराम पाल ने कहा कि प्रधानमंत्री हर महीने मन की बात करते हैं। लेकिन श्रमिकों के भी मन की बात भी सुनें। श्रमिक बेहाल हैं और उनके हितों का गला घोंटा जा रहा है। केंद्र सरकार के शासनकाल में श्रमिक विरोधी नीतियां बनाईं जा रही हैं। 
सभा में सपा विधायक अमिताभ बाजपेई ने कहा कि केंद्र सरकार श्रमिकों पर दमन चक्र चला रही है। मृतक आश्रितों को वन टाइम छूट की मांग जायज है। डिफेंस कारखानों में वर्कलोड कम करना और लालइमली को बंद करने की कोशिशों का जनता चुनाव में हिसाब चुकता करेगी। 
कांग्रेस अध्यक्ष हरप्रकाश अग्निहोत्री ने कहा कि सिर्फ कांग्रेस ही श्रमिकों की हितैषी है। केंद्र सरकार के खिलाफ शहर में बड़ा आंदोलन शुरू किया जाएगा। कांग्रेस नेता आलोक मिश्र ने कहा कि पीएम जनता के मन की बात तो सुनें। जनता बेहाल है। इंटक अध्यक्ष आशीष पांडेय ने कहा कि कांग्रेस ने सभी मृतक आश्रितों को नौकरी देने का नियम बनाया था। लेकिन केन्द्र सरकार इस पर कुछ नहीं कर रही है। 3 हजार आश्रित दर-दर की ठोंकरें खा रहे हैं। इस दौरान पीके श्रीवास्तव, डीएन मालवीय, कमलेश चतुर्वेदी, राकेश मिश्र,सुभाष ठाकुर, जितेन्द्र, सब्बीर, परमजीत,आफताब मौजूद रहे। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Kanpur Labor interests are strangled by Center and the State Government