DA Image
22 अक्तूबर, 2020|5:22|IST

अगली स्टोरी

10वीं में छात्रा ने हासिल किए थे 82% मार्क्स, फिर भी लगा ली फांसी, जानें क्यों

ayodhya  suspected  hanged

उत्तर प्रदेश के कानपुर में एक छात्रा ने 10वीं के बोर्ड रिजल्ट में 82 फीसदी अंक आए थे लेकिन फिर भी उसने फांसी लगाकर जान दे दी। कंट्रोल रूम की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने पंचनामा भर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा दिया। बताया जा रहा है कि छात्रा के सहेली से कम अंक आए थे जिसके चलने उसने यह खौफनाक कदम उठाया।

कानपुर के धामीखेड़ा निवासी श्रवण कुमार प्राइवेट नौकरी करते हैं। सोमवार को वह भांजे की शादी में शामिल होने पत्नी के साथ बिल्हौर गए थे। घर पर बड़ा बेटा रवि, बहू अर्चना, बेटी अनीसा और छोटा बेटा अंश था। देर रात अनीसा ने कमरे में दुपट्टे के सहारे पंखे से फांसी लगा ली। बड़ा बेटा रवि बाथरूम जाने के लिए नीचे उतरा तो बहन को फंदे पर झूलते हुए देख सकते में आ गया।

परिजन फंदा काटकर अनीता को पास के निजी अस्पताल ले गए, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। इंस्पेक्टर ने बताया कि अनीसा के 82% नम्बर आए थे, जबकि उसकी सहेली के 85% नंबर आए थे। सहेली के 3% नम्बर अधिक आने पर अनीसा तनाव में थी। इसी डिप्रेशन के चलते उसने कठोर कदम उठा लिया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Kanpur : Girl commit suicide after scoring 82 percent marks in 10 board exam know why