DA Image
8 सितम्बर, 2020|2:18|IST

अगली स्टोरी

कानपुर कांड: विकास दुबे के गुर्गों की आसपास के जिलों में मिलने लगी लोकेशन

कानपुर एनकाउंटर में फरार चल रहे विकास के गुर्गों की लोकेशन लगातार कानपुर के आसपास जिलों में मिल रही है। माना जा रहा है कि गोपाल सैनी के सरेंडर के बाद अब अन्य फरार अरोपित भी कानपुर देहात कोर्ट में सरेंडर करने की फिराक में हैं। पुलिस और एसटीएफ की तीन टीमें कानपुर देहात, औरैया समेत आसपास के जिलों में लगातार छापेमारी कर रही हैं।

बिकरू कांड के फरार आरोपितों का एसटीएफ और पुलिस भले ही सुराग नहीं लगा पा रही है, लेकिन फरार आरोपितों की लोकेशन कानपुर देहात, औरैया समेत अन्य जिलों में लगातार मिल रही है। एसपी ग्रामीण बृजेश श्रीवास्वत ने बताया कि बिकरू कांड को करीब एक महीने पूरे होने को हैं। अब सभी आरोपित कोर्ट में सरेंडर करने की फिराक में हैं, लगातार इसके लिए प्रयासरत हैं। इस वजह से कानपुर के आसपास जिलों में लोकेशन मिल रही है।

पुलिस ने कानपुर देहात के कई अधिवक्ताओं को भी रडार पर लिया है, जो आरोपितों को सरेंडर कराने का प्रयास कर रहे हैं। कई अधिवक्ताओं का मोबाइल कॉल पर भी सर्विलांस काम कर रही है। एसपी ग्रामीण बृजेश कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि पुलिस और एसटीएफ की टीमें फरार अरोपितों की तलाश में दबिश दे रही हैं। एनसीआर के बाद अब कानपुर के आसपास जिलों में लोकेशन मिल रही है। जल्द ही फरार आरोपितों को गिरफ्तार करके जेल भेजा जाएगा।

विकास का भांजा और जिलेदार की तलाश तेज
फरार चल रहे आरोपितों में एसटीएफ और पुलिस विकास का भांजा शिव तिवारी और उसका दाहिना हाथ विष्णु पाल यादव उर्फ जिलेदार की तलाश तेज कर दी है। इसके साथ ही राजाराम उर्फ प्रेम कुमार, राम सिंह, रामू बाजपेई, हीरू दुबे, बउअन शुक्ला, शिवम दुबे और बाल गोविंद समेत अन्य फरार है। इन सभी आरोपितों की बिकरू कांड में मुख्य भूमिका सामने आई है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Kanpur Encounter : Vikas Dubey associates are hiding in surrounding districts