DA Image
10 जुलाई, 2020|9:43|IST

अगली स्टोरी

कानपुर कांड के मुख्य आरोपी विकास दुबे पर यूपी पुलिस ने घोषित किया 50 हजार का इनाम

kanpur history sheeter criminal vikas dubey

यूपी के कानपुर में देर रात हिस्ट्रीशीटर को पकड़ने गई पुलिस टीम पर बदमाशों ने ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। इसमें सीओ समेत आठ पुलिसकर्मी शहीद हो गए।  चार पुलिसकर्मी घायल भी हैं। घटना कानपुर में चौबेपुर थाना क्षेत्र के बिकरू गांव की है। यहां पुलिस बदमाश विकास दुबे को पकड़ने गई थी। वहीं बाद में पुलिस ने हमला करने वाले दो बदमाशों को मार गिराया है। अभी भी मुठभेड़ जारी है और विकास दूबे की तलाश की जा रही है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने घटना में शहीद पुलिसकर्मियों को श्रद्धांजलि देते हुए मामले की पूरी रिपोर्ट तलब की है और बदमाशों को तुरंत पकड़ने के आदेश दिए हैं। 

लाइव अपडेट : 

- कानपुर रेंज के आईजी मोहित अग्रवाल ने कानपुर कांड के मुख्य आरोपी विकास दुबे पर 50 रुपए का इनाम घोषित किया है।

- सीएम योगी का ऐलान, शहीद परिवारों को एक-एक करोड़ की मदद। सभी के परिजनों को नौकरी और असाधारण पेंशन दी जाएगी।

- राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने ट्वीट कर कहा - कानपुर में कर्तव्य पथ पर अपने प्राणों की आहुति देने वाले 4 अधिकारियों सहित 8 बहादुर पुलिसकर्मियों को मैं श्रद्धांजलि देता हूं और उनके परिवारों के प्रति हार्दिक संवेदना प्रेषित करता हूं।

 

- कानपुर में सीएम योगी ने शहीदों को दी श्रद्धांजलि, परिजनों को दी सांत्वना

-  मुख्यमंत्री ने रीजेंसी में भर्ती  घायल पुलिस कर्मियों का जाना हाल, परिजनों से बात की

- मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य घायलों को देखने पहुंचे अस्पताल।

- मुख्यमंत्री याेगी आदित्यनाथ कानपुर पहुंचे 

- कानपुर की घटना के विरोध में लखनऊ में सपा कार्यकर्ताओं ने किया प्रदर्शन, पुलिस का लाठीचार्ज 

-  लखनऊ में विकास और उसके भाई के घर दबिश, भाई की पत्नी हिरासत में

कुछ ही देर में  मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कानपुर पहुंचने वाले हैं, शहीद पुलिसकर्मियों को देंगे श्रद्धांजलि 

 

डीजीपी पहुंचे चौबेपुर

डीजीपी ने घटनास्थल का दौरा किया और कहा कि यह शातिर बदमाशों की यह कायराना हरकत है। हमारे परिवार पर हमला हुआ है हम घटना की तह तक जाएंगे अपराधीतत्वों को सख्त से सख्त सजा मिलेगी।

सीएम और डीजीपी आ रहे हैं कानपुर 

- मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और डीजीपी कानपुर पुलिस लाइन में हमले में शहीद पुलिस कर्मियों को गाड आफ आनर देंगे। दोनों एक साथ लखनऊ से पुलिस लाइन उतरेंगे फिर शहीद पुलिसकर्मियों को श्रृद्धांजलि देने के बाद सर्वोदयनगर स्थित रीजेंसी अस्पताल में भर्ती घायल जवानों का हाल जानेंगे।

- पोस्टमार्टम हाउस पर पहुंचे कमिश्नर सुधीर एम बोबडे, सीओ स्वरूप नगर अजीत सिंह चौहान से ली जानकारी। 

- कई शहीद पुलिसकर्मियों के हथियार भी गायब है। 

- यूपी डीजीपी कानपुर के लिए रवाना 

- शहीद पुलिसकर्मियों का शव पोस्टमार्टम हाउस पहुंचा। 

- मुठभेड़ में विकास दुबे के भाई और मामा को पुलिस ने मार गिराया। 

एसटीएफ ने संभाला मोर्चा, आईजी एसटीएफ मौके पर, एडीजी भी दल-बल के साथ निकले

- राहुल गांधी ने ट्वीट कर यूपी सरकार को घेरा 

राहुल गांधी ने ट्वीट कर लिखा है कि यूपी में गुंडाराज का एक और प्रमाण। जब पुलिस सुरक्षित नहीं, तो जनता कैसे होगी? मेरी शोक संवेदनाएँ मारे गए वीर शहीदों के परिवारजनों के साथ हैं और मैं घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना करता हूँ।

- आईजी एसटीएफ अमिताभ यश और डीआईजी अनंत देव घटनास्थल पहुंचे।

- एडीजी प्रशांत कुमार बोले, पुलिस की तरफ से हुई बड़ी चूक
दबिश देने गई पुलिस पर बदमाश हावी हो चुके थे, पुलिस टीम बिना तैयारी गई थी। उसे अंदाजा ही नहीं था कि विकास और उसके साथी असलहों के साथ अंदर हैं। यही चूक भारी पड़ गई। यह कहना है एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार का। 

शहीद पुलिसकर्मियों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा : योगी 

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कानपुर में कर्तव्यपालन के दौरान अपने प्राणों की आहुति देने वाले 8 पुलिस कर्मियों को भावभीनी श्रदांजलि दी है।
पुलिस कार्मिको की शहादत को शत् शत् नमन करते हुए मुख्यमंत्री ने इनके शोक संतप्त परिजनों के प्रति अपनी गहरी संवेदना व्यक्त की है। मुख्यमंत्री ने पुलिस महानिदेशक को इस दुर्दांत घटना को अंजाम देने वाले अपराधियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही करने तथा तत्काल मौके की रिपोर्ट उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं। 

 

- सपा अध्यक्ष और यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि कानपुर की दुखद घटना में पुलिस के 8 वीरों की शहादत को श्रद्धांजलि ! उप्र के आपराधिक जगत की इस सबसे शर्मनाक घटना में ‘सत्ताधारियों और अपराधियों ‘की मिलीभगत का ख़ामियाज़ा कर्तव्यनिष्ठ पुलिसकर्मियों को भुगतना पड़ा है। अपराधियों को जिंदा पकड़कर वर्तमान सत्ता का भंडाफोड़ होना चाहिए। 

 

-  पुलिस पर हमला करने वाला एक और बदमाश मारा गया, मुठभेड जारी। आईजी मोहित अग्रवाल ने की पुष्टि।

- कानपुर देहात से विकास दुबे के बहनोई दिनेश तिवारी को पुलिस ने हिरासत में लिया

- चौबेपुर के गांव बिकरू में बदमाशों से मुठभेड़ में शहीद 8 पुलिसकर्मियों के पार्थिव शरीर पोस्टमार्टम हाउस पहुंचा। सभी कागजी प्रक्रियां शुरू। डीएम बृह्म देव राम तिवारी भी पहुंचे।

- एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार पहुंचे घटनास्थल।

- कानपुर मंडल कानपुर, कानपुर देहात, कन्नौज, फर्रुखाबाद, इटावा, औरैया की सभी सीमाएं सील कर दी गई हैं।

- जीटी रोड पर स्थित गांव में हुई घटना के बाद से जीटी रोड पर जगह-जगह बैरियर लगाकर हो रही है सघन तलाशी।  

- फॉरेंसिंक टीमें घटनास्थल पर जांच पड़ताल के लिए पहुंची, अपराधी विकास के घर को चारों तरफ पुलिस तैनात।

-लखनऊ से एडीजी लॉ एंड आर्डर के कानपुर आने की सूचना, बताया जा रहा है कि वह सीधे घटनास्थल पहुंचेंगे।

- एक बदमाश को पुलिस ने मार गिराया। आईजी मोहित अग्रवाल ने बताया और बदमाश भी गांव में छिपे हैं, पुलिस और एसटीएफ की टीम बदमाशों से मोर्चा ले रही है। अभी एक बदमाश को पुलिस ने मार गिराया।

-  हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे के चौबेपुर स्थित गांव बिकरू से चार किलोमीटर आगे काशीराम निवादा गाँव में पुलिस औऱ बदमाशों की मुठभेड़ जारी।

- मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शहीद पुलिसकर्मियों को श्रद्धांजलि दी और इस मामले की रिपोर्ट  मांगी। 

 

- फर्रुखाबाद में भी नाकाबंदी, बार्डर पर हो रही चेकिंग
कानपुर में हुई पुलिस मुठभेड़ के बाद शुक्रवार भोर से ही जिले के बॉर्डर पर पुलिस ने चेकिंग अभियान शुरू कर दिया कानपुर रोड के बॉर्डर के साथ-साथ जिले के सभी वार्डों पर पुलिस वाहन चेकिंग अभियान कर भागे हुए अपराधियों को तलाश रही है ।

- अपर पुलिस महानिदेशक कानपुर जोन जय नारायन सिंह ने बताया चार और पुलिसकर्मियों की हालत नाजुक ।

- आपरेशन में एसटीएफ के जाबांज अफसरों को भी उतारा गया।

- बिकरू समेत कई गांवों को पुलिस ने चारों तरफ से घेरा
आठ पुलिसकर्मियों की शाहदत का बदला लेने के लिए गुरुवार आधी रात के बाद से ही चौबेपुर स्थित विकास दुबे के गांव बिकरू में भारी पुलिस फोर्स तैनात है। आसपास के कई गांव तक घुस चुकी है पुलिस। पुलिस का अनुमान है कि बदमाश आसपास के गांवों में ही छिपे हैं। कानपुर शहर के अलावा आसपास कई जिलों की भी फोर्स बुलाई गई है।

 समाजवादी पार्टी ने की एक करोड़ मुआवजे की मांग : 

समाजवादी पार्टी की तरफ से ट्वीट कर कहा गया कि  'रोगी सरकार' के जंगलराज में 'हत्या प्रदेश' बने उप्र के कानपुर में दबिश के दौरान सत्ता संरक्षित अपराधियों द्वारा हमले में CO समेत 8 पुलिसकर्मि शहीद, अत्यंत दुखद! आत्मा को शांति दे भगवान! शोकाकुल परिजनों के प्रति संवेदना!1-1 करोड़ ₹ मुआवजे का हो ऐलान। सत्ता कनेक्शन का हो पर्दाफाश!

 

यह भी पढ़ें : सड़क पर खड़े थे पुलिसकर्मी, घर की छत से एकाएक ताबडतोड़ फायरिंग करने लगे बदमाश

- कन्नौज तक में अलर्ट, हर आने-जाने वाले वाहनों की हो रही चेकिंग

कानपुर के चौबेपुर में हुई मुठभेड़ के बाद कन्नौज की पुलिस हाई अलर्ट पर। जिलेभर की पुलिस अलग-अलग स्थानों पर चेकिंग में जुटी। जीटी रोड से निकलने वाले हर आने-जाने वालों पर रखी जा रही निगाह। गुजरने वाली सभी गाड़ियों की हो रही चेकिंग।

ये पुलिसकर्मी हुए शहीद : 

1-देवेंद्र कुमार मिश्र,सीओ बिल्हौर
2-महेश यादव,एसओ शिवराजपुर 
3-अनूप कुमार,चौकी इंचार्ज मंधना
4-नेबूलाल, सब इंस्पेक्टर शिवराजपुर 
5-सुल्तान सिंह कांस्टेबल थाना चौबेपुर 
6-राहुल ,कांस्टेबल बिठूर 
7-जितेंद्र,कांस्टेबल बिठूर 
8-बबलू कांस्टेबल बिठूर

-घर के अंदर और छतों से गोलियां चलाई गईं। 

- बिठूर एसओ कौशलेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि विकास और उसके 8, 10 साथियों ने पुलिस पर ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी।

-  करीब साढ़े 12 बजे बिठूर और चौबेपुर पुलिस ने मिलकर विकास दुबे के गांव बिकरू में उसके घर पर दबिश दी।

 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:kanpur encounter live-updates latest news 8 policemen martyred political leaders reaction pm modi UP CM yogi aditynathan akhilesh yadav priyanka ghandi