ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशकमलेश हत्याकांड : वारदात के दौरान घायल हुए हत्यारे ने बरेली में कराया था इलाज 

कमलेश हत्याकांड : वारदात के दौरान घायल हुए हत्यारे ने बरेली में कराया था इलाज 

Kamlesh Tiwari Murder Case : हत्या के दौरान कमलेश से हुई हाथापाई में घायल हुए हत्यारे ने बरेली में इलाज कराया था। यह खुलासा तीन दिन पहले ही हो गया था। उसके बाद हत्यारों की लोकेशन मुरादाबाद के आस...

कमलेश हत्याकांड : वारदात के दौरान घायल हुए हत्यारे ने बरेली में कराया था इलाज 
हिन्दुस्तान टीम, बरेली।Tue, 22 Oct 2019 06:54 AM
ऐप पर पढ़ें

Kamlesh Tiwari Murder Case : हत्या के दौरान कमलेश से हुई हाथापाई में घायल हुए हत्यारे ने बरेली में इलाज कराया था। यह खुलासा तीन दिन पहले ही हो गया था। उसके बाद हत्यारों की लोकेशन मुरादाबाद के आस पास मिली थी। फिर इनकी मौजूदगी लखीमपुर में नेपाल सीमा और शाहजहांपुर में निकली।

इस आधार पर ही अफसरों का कहना है कि बरेली में इलाज कराने के बाद ये लोग लखीमपुर गए थे। एसएसपी कलानिधि नैथानी का कहना है कि हत्यारों के बारे में कई सुराग मिल गए हैं। इनके बेहद करीब पुलिस पहुंच चुकी है। हालांकि पुलिस ने इस केस से जुड़े एक शख्स मुफ्ती कैफ अली को गिरफ्तार किया है। कमलेश तिवारी की हत्या करने के आरोपी शूटर बरेली के प्रेमनगर इलाके में एक मुफ्ती से मिलने आए थे।

कमलेश हत्याकांड: पुलिस के हत्थे चढ़ा हत्यारोपियों की मदद करने वाला शख्स

मुफ्ती से मीटिंग करने के बाद आरोपी शूटरों ने सूरत और दुबई तक कमलेश हत्याकांड की खबर की। इसके बाद हत्यारोपी पीलीभीत होते हुए नेपाल जाने के लिए रवाना हो गए थे। पुलिस ने कातिलों के मददगार का नाम पता ट्रेस कर लिया है। गिरफ्तारी के लिए देर रात तक पुलिस टीमें लगी रहीं।

गंगा में विसर्जित हुई कमलेश तिवारी की अस्थियां
लखनऊ में मारे गए हिंदू नेता कमलेश तिवारी की अस्थियों का विसर्जन सोमवार की रात काशी में दशाश्वमेध घाट पर गंगा में किया गया। कमलेश तिवारी की अस्थि कलश लेकर उनकी मां कुसुम तिवारी और छोटा पुत्र मृदुल रात करीब साढ़े दस बजे दशाश्वमेध घाट पहुंचे।

वाराणसी : गंगा में विसर्जित हुई कमलेश तिवारी की अस्थियां

घाट पर आचार्य रणधीर पांडेय ने अस्थि कलश का सविधि पूजन कराया। उसके बाद कमलेश तिवारी की मां, पुत्र और कुछ अन्य परिजन नौका पर सवार हुए। जलस्तर बढ़ा होने के कारण नौका अधिक दूर नहीं ले जाई गई। अस्थियां विसर्जित करने के बाद कमलेश की मां ने कहा कि इस वक्त मेरे घर इतनी फोर्स लगाई गई है कि हम खुद को नजरबंद महसूस कर रहे हैं। इतनी फोर्स हत्यारों को खोजने में लगाई गई होती तो अब तक उनको पकड़ लिया गया होता। उनकी मां ने कहा कि हमें अब भी धमकियां मिल रही हैं।

कमलेश तिवारी हत्याकांड: शाहजहांपुर में दिखे हत्यारे, फुटेज भी मिले

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें