ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशUP के इस जिले में बिजली उपभोक्ताओं को राहत, ट्रांसफार्मर जला तो अब जेई से लेकर एक्सईएन होंगे सस्पेंड

UP के इस जिले में बिजली उपभोक्ताओं को राहत, ट्रांसफार्मर जला तो अब जेई से लेकर एक्सईएन होंगे सस्पेंड

बिजली उपभोक्ताओं के लिए राहत की खबर है। दनादन फुंक रहे ट्रांसफार्मरों पर अब अंकुश लगाने की तैयारी है। ट्रांसफॉर्मर जलने पर जेई और एक्सईएन निलंबित होंगे।

UP के इस जिले में बिजली उपभोक्ताओं को राहत, ट्रांसफार्मर जला तो अब जेई से लेकर एक्सईएन होंगे सस्पेंड
Pawan Kumar Sharmaहिन्दुस्तान,महराजगंजFri, 26 Jan 2024 04:12 PM
ऐप पर पढ़ें

महराजगंज के बिजली उपभोक्ताओं के लिए राहत भरी खबर है। दनादन फुंक रहे ट्रांसफार्मरों पर अब अंकुश लगाने की तैयारी है। अगर ट्रांसफार्मर जला तो उसकी जिम्मेदारी अवर अभियंता, एसडीओ और एक्सईएन की होगी। शासन ने ट्रांसफार्मर की क्षमता के हिसाब से अवर अभियंता, एसडीओ और एक्सईएन तक निलंबन की कार्रवाई सुनिश्चित किया है। इसके लिए उत्तर प्रदेश पॉवर कॉरपोरशन ने आदेश जारी किया है।

महराजगंज में 4 लाख 48 हजार बिजली उपभोक्ता हैं। इन उपभोक्ताओं के मकान और दुकान रोशन करने के लिए विभिन्न क्षमता के करीब दस हजार ट्रांसफार्मर लगे हैं। इन ट्रांसफार्मरों के प्रोटेक्शन की जिम्मेदारी अवर अभियंता(जेई), एसडीओ और एक्सईएन की है। इसके लिए इन्हें समय-समय पर प्रोटेक्शन उपकरण उपलब्ध कराया जाता है। लेकिन इसके बावजूद दनादन ट्रांसफार्मर फुंक रहे हैं। शासन ने उपभोक्ताओं को इस समस्या से निजात दिलाने के लिए ट्रांसफार्मर जलने पर उसका सीधे जिम्मेदार इन अधिकारियों को बनाया है। ट्रांसफार्मर जलने पर उसके क्षमता के हिसाब से जेई, एसडीओ और एक्सईएन पर निलंबन की कार्रवाई करेगा।

जेई को एसई, एसडीओ को चीफ व एक्सईएन पर एमडी करेंगे निलंबन की कार्रवाई शासन ने ट्रांसफार्मर जलने पर इन अधिकारियों पर निलंबन की कार्रवाई के लिए अधिकारियों को नामित किया है। जेई पर निलंबन की कार्रवाई अधीक्षण अभियंता विद्युत वितरण मंडल महराजगंज, एसडीओ पर निलंबन की कार्रवाई चीफ इंजीनियर गोरखपुर मंडल और एक्सईएन पर निलंबन की कार्रवाई पूर्वांचल विद्युत वितरण निगम वाराणसी के एमडी करेंगे।

100 से अधिक व 630 केवीए के ट्रांसफार्मर जले तो नपेंगे अधिकारी

उत्तर प्रदेश पॉवर कॉरपोरेशन ने जले ट्रांसफार्मर की क्षमता के हिसाब 8 से इन अधिकारियों पर निलंबन की कार्रवाई करेगा। 100 केवीए क्षमता तक के ट्रांसफार्मर जलने पर जेई, 100 से अधिक और 630 केवीए क्षमता तक ट्रांसफार्मर जलने पर एसडीओ और पांच एवीए से लेकर 20 एमवीए क्षमता का ट्रांसफार्मर जलने पर एक्सईएन पर निलंबन की कार्रवाई करेगा। इस मामले में अधीक्षण विद्युत वितरण मंडल के वाईपी सिंह बताया कि यूपी पॉवर कॉरपोरेशन के चेयरमैन का आदेश मिला है कि सभी अवर अभियंता, एसडीओ व एक्सईएन को उपलब्ध करा दिया गया है। जले ट्रांसफार्मर के क्षमता के हिसाब से इन अधिकारियों पर संबंधित नामित अधिकारी निलंबन की कार्रवाई करेंगे। कार्रवाई से बचने के लिए इन अधिकारियों ने ट्रांसफार्मरों के प्रोटेक्शन कार्य को अपडेट करने में जुट गए है।

ट्रांसफार्मर की सुरक्षा की कोशिश तेज

शासन का निलंबन कार्रवाई का आदेश मिलते ही अधिकारियों ने ट्रांसफार्मर को जलने से बचाने के लिए कोशिश तेज कर दी है। ट्रांसफार्मरों का प्रोटेक्शन अपडेट करने में जुट गए है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें