ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशJaunpur Results 2024: जौनपुर लोकसभा सीट पर धनंजय सिंह का साथ भी नहीं आया काम, भाजपा के कृपाशंकर सिंह हारे, सपा के बाबू जीते

Jaunpur Results 2024: जौनपुर लोकसभा सीट पर धनंजय सिंह का साथ भी नहीं आया काम, भाजपा के कृपाशंकर सिंह हारे, सपा के बाबू जीते

Jaunpur Results 2024: जौनपुर लोकसभा सीट पर धनंजय सिंह का साथ भी भाजपा के काम नहीं आ सका। भाजपा भारी अंतर से जौनपुर लोकसभा सीट हार गई है। सपा के बाबू सिंह कुशवाहा ने यह सीट जीत ली है।

Jaunpur Results 2024: जौनपुर लोकसभा सीट पर धनंजय सिंह का साथ भी नहीं आया काम, भाजपा के कृपाशंकर सिंह हारे, सपा के बाबू जीते
Yogesh Yadavलाइव हिन्दुस्तान,जौनपुरTue, 04 Jun 2024 09:47 PM
ऐप पर पढ़ें

Jaunpur Results 2024: बाहुबली पूर्व सांसद धनंजय सिंह का साथ भी भाजपा को जौनपुर लोकसभा सीट पर जीत नसीब नहीं करा सका। सपा के बाबू सिंह कुशवाहा ने भाजपा के कृपाशंकर सिंह को हरा कर यह सीट बड़े अंतर से जीत ली है। मौजूदा सांसद बसपा प्रत्याशी श्याम सिंह यादव एक लाख से ज्यादा वोट हासिल कर तीसरे नंबर पर रहे। सपा के बाबू सिंह कुशवाहा ने भाजपा के कृपा शंकर सिंह को 99335 वोटों से हराया है। सपा के बाबू सिंह कुशवाहा को 509130 वोट मिले। भाजपा के कृपा शंकर सिंह 409795 वोट ही हासिल कर सके। बसपा के श्याम सिंह यादव को 157137 वोट मिले। सपा के बाबू सिंह कुशवाहा ने दोपहर से ही बड़ी लीड ले ली थी। यहां से पूर्व सांसद बाहुबली धनंजय सिंह ने भाजपा को समर्थन दिया था। ऐसे में उनकी प्रतिष्ठा भी दांव पर थी। भाजपा जौनपुर की दूसरी सीट मछलीशहर भी हार गई है। वहां से सपा की प्रिया सरोज ने मौजूदा सांसद बीपी सरोज को हरा दिया है।

पिछले लोकसभा चुनाव में सपा बसपा गठबंधन ने भाजपा को यहां से शिकस्त दी थी। सपा-बसपा गठबंधन के प्रत्याशी श्याम सिंह यादव ने 50 प्रतिशत से ज्यादा वोटों पर कब्जा कर लिया थी। बसपा के श्याम सिंह यादव को 5 लाख 21 हजार 128 वोट हासिल हुए। जो वोट प्रतिशत में 50.08 था। बीजेपी के कृष्ण प्रताप सिंह 4 लाख 40 हजार 192 वोट मिले। कांग्रेस के देव व्रत मिश्र को 27 हजार 185 वोट ही मिल सके।

बाहुबली धनंजय सिंह के अलावा हिन्दुवादी नेता स्वामी चिन्मयानंद भी यहां से सांसद रहे हैं। चिन्मयानंद को केंद्रीय गृह राज्यमंत्री भी बनाया गया था। जौनपुर में पहला सांसद बनने का गौरव कांग्रेस के बीरबल सिंह को हासिल है। बीरबल सिंह लगातार दो बार सांसद रहे। 1962 के चुनाव में जसंघ के ब्रह्मजीत सिंह ने जीत हासिल की।

1963 में कांग्रेस के राजदेव सांसद बने और 67 के साथ ही 71 में भी चुने गए। इमरजेंसी के बाद 1977 में हुए चुनाव में कांग्रेस को हार मिली और जनता पार्टी के यादवेंद्र दत्त दुबे ने जीत हासिल की। 1980 में जनता पार्टी के ही अज़ीज़ुल्लाह आज़मी जीते। 
 राजीव गांधी की लहर में 1984 में कांग्रेस ने वापसी की और कमला प्रसाद सिंह सांसद चुने गए। 1989 में जनता दल और भाजपा का गठबंधन हुआ तो बीजेपी के यादवेंद्र दत्त दुबे सांसद बने। 1991    में जनता दल के अर्जुन सिंह यादव चुनाव जीते। 

1996 भाजपा के राज केशर सिंह और 1998 में पारसनाथ यादव को जीत मिली। 1999 में भाजपा के स्वामी चिन्मयानन्द सांसद बने और अटल जी की सरकार में मंत्री भी बने। 2004    एक बार फिर सपा के पारसनाथ यादव जीते। 2009 में बसपा के टिकट पर बाहुबली धनंजय सिंह सांसद चुने गए। 2014 की मोदी लहर में भाजपा के कृष्ण प्रताप सिंह जीते लेकिन 2019 में सपा-बसपा का गठबंधन होने पर बीएसपी प्रत्याशी श्याम सिंह यादव से केपी सिंह हार गए।

ऐसे बदलता रहा वोटों का रुझान

3.42 PM- जौनपुर में सपा के बाबू सिंह कुशवाहा को अब तक 237989 वोट मिले हैं। वहीं 41247 वोटों की कमी के साथ बीजेपी के कृपाशंकर दूसरे स्थान पर हैं। उन्हें अब तक 196742 वोट मिले हैं।

1.30 PM- सपा के बाबू सिंह कुशवाहा 125780 वोटों के साथ पहले स्थान पर हैं। उन्होंने 17538 वोटों की बढ़त बना ली है। दूसरे स्थान पर 108242 वोटों के साथ बीजेपी के कृपाशंकर हैं।

11.45 AM- सपा के बाबू सिंह कुशवाहा 5825 वोटों से आगे, बाबू कुशवाहा को  42669 वोट, भाजपा के कृपाशंकर को 36844 वोट

8.00 AM- मतगणना शुरू