ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशJaswant Nagar seat Result Live : सपा के पाले में गई जसवंतनगर सीट, शिवपाल सिंह यादव 90979 वोटों से जीते, विवेक शाक्य को मिली करारी हार

Jaswant Nagar seat Result Live : सपा के पाले में गई जसवंतनगर सीट, शिवपाल सिंह यादव 90979 वोटों से जीते, विवेक शाक्य को मिली करारी हार

इटावा जिले की जसवंतनगर विधानसभा सीट सपा के पाले में चली गई है। शिवपाल सिंह यादव ने अपने प्रतिद्वंदी भाजपा के विवेक शाक्य को 90979 वोटों से हरा दिया है। सपा के गढ़े में भाजपा के लिए यह बड़ा झटका है।...

Jaswant Nagar seat Result Live : सपा के पाले में गई जसवंतनगर सीट, शिवपाल सिंह यादव 90979 वोटों से जीते, विवेक शाक्य को मिली करारी हार
लाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीThu, 10 Mar 2022 06:02 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

इटावा जिले की जसवंतनगर विधानसभा सीट सपा के पाले में चली गई है। शिवपाल सिंह यादव ने अपने प्रतिद्वंदी भाजपा के विवेक शाक्य को 90979 वोटों से हरा दिया है। सपा के गढ़े में भाजपा के लिए यह बड़ा झटका है। सपा प्रत्याशी शिवपाल सिहं यादव को अब तक 158531 वोट मिले हैं। वहीं दूसरे नंबर पर भाजपा के विवेक शाक्य रहे। इन्हें अब तक 68454 वोट मिले। तीसरे नंबर बसपा के ब्रजेंद्र प्रताप सिंह को 17435 वोटों पर ही संतोष करना पड़ा है।

बतादें कि गोरखपुर, करहल के बाद बाद हॉट सीट कही जाने वाली जसवंतनगर सीट पर इस पर भाजपा और सपा का जोरदार मुकाबला है। सातों चरण खत्म होते ही सभी की नजरें अपनी-अपनी सीटों के नतीजों पर टिकी हैं। इस सीट पर सपा से शिवपाल सिंह यादव और भाजपा से विवेक शाक्य चुनाव मैदान में हैं। दोनों प्रत्याशियों के बीच जोरदार मुकाबला है। इस सीट को लगातार सपा ही जीतते चली आ रही है। शिवपाल सिंह यादव इस सीट से सीटिंग विधायक हैं।    

यूपी इलेक्शन LIVE अपडेट्स देखने के लिए यहां क्लिक करें 

1996 से शिवपाल यादव जीतते चले आ रहे हैं जसवंतनगर सीट

इटावा की जसवंत नगर सीट पर अब तक 16 चुनाव हुए हैं। उनमें से 12 मे मुलायम सिंह यादव या उनके भाई शिवपाल यादव जीते। 1996 से शिवपाल यहां से जीत रहे हैं। मुलायम का पैतृक गांव सैफई इसी विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत आता है। इस बार यहां जातीय गणित और रसूख का मुद्दों से मुकाबला है। 2017 की प्रचंड भाजपा लहर में भी इटावा की जसवंतनगर सीट सपा ने 52,616 वोटों से जीती थी। इसीलिए इस सीट को सपा का गढ़ कहा जाता है। सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव जसवंतनगर से सात बार चुनाव जीते। उनके भाई शिवपाल यादव लगातार पांचवीं बार विधायक हैं।

जसवंतनगर सीट से 1967 में पहला चुनाव जीते थे मुलायम

जसवंतनगर सीट पर मुलायम पहला चुनाव 1967 में जीते। 69 में वह कांग्रेस के विशंभर सिंह से हार गए। 1974 और 1977 की जनता लहर में मुलायम फिर जीते। जनता सरकार में सहकारिता मंत्री बने। 1980 में कांग्रेस ने जोरदार वापसी की। मुलायम सिंह हार गए। कुछ दिन बाद ही उन्हें लोकदल का प्रदेश अध्यक्ष बनाया गया। राजनीतिक कद बढ़ने लगा। 1985 की इंदिरा लहर में भी वह जीते और तब से अब तक जसवंतनगर पर मुलायम परिवार ही जीत रहा है। 1989 में इसी सीट से जीत कर मुलायम मुख्यमंत्री बने। तभी से यह वीआईपी सीट बन गई।

कौन-कौन दावेदार

प्रसपा के संस्थापक शिवपाल यादव इस बार भी सपा की टिकट से चुनाव मैदान में हैं। इसी सीट पर बसपा ने बृजेंद्र प्रताप सिंह और आप ने ज्ञानेश कुमार को चुनाव मैदान में उतारा है। भाजपा ने इस बार विवेक शाक्य पर दांव आजमाया है। विवेक शाक्‍य जसवंतनगर विधानसभा के नगला भिखन, पोस्‍ट मलाजनी के रहने वाले हैं। उनके पिता मनोज शाक्‍य इटावा के जाने माने समाजसेवी हैं। यही नहीं, विवेक 2012 से लगातार भाजपा के साथ जुड़े हुए हैं और इस दौरान मोदी सरकार के साथ योगी सरकार की योजनाओं को लेकर जनजागरण का काम भी किया है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें