DA Image
20 अक्तूबर, 2020|5:15|IST

अगली स्टोरी

लॉकडाउन में भी दो दिन से कर रहे थे जलसा, 150 से ज्यादा थे शामिल पुलिस पहुंची तो मच गई भगदड़

लॉकडाउन के बीच पिछले दो दिनों से मेरठ के जली कोठी इलाके में चल रहे जलसे की सूचना पर एडीएम सिटी अजय कुमार तिवारी ने गुरुवार रात छापा मारा। जलसे में डेढ़ सौ से ज्यादा लोग मौजूद थे। छापा पड़ते ही वहां भगदड़ मच गई। अधिकांश लोग फरार हो गए। पुलिस ने मौके से पांच लोगों को गिरफ्तार किया है। इन सभी के खिलाफ थाना देहली गेट में मुकदमा दर्ज किया गया है। इतनी भीड़ जुटने के बावजूद थाना पुलिस और एलआईयू बेखबर रही।

एडीएम सिटी अजय तिवारी ने बताया कि जली कोठी क्षेत्र में एक घर में दो दिनों से जलसा चल रहा था। किसी व्यक्ति ने गुरुवार रात इसकी खबर डीएम और एडीएम को फोन पर दी। यह भी बताया कि थाना पुलिस को इसकी भनक न लगे। पुलिस की यह सब पहले से जानकारी में है। देर रात एडीएम सिटी ने अपने गनर को साथ लेकर जलसा स्थल पर पहुंचे और छापा मारा। जलसे की व्यवस्था देख रहे यूसुफ बादशाह नामक शख्स ने एडीएम को यह कहकर गुमराह करने का प्रयास किया कि वहां केवल 20-25 लोग मौजूद हैं। एडीएम जिस घर में जलसा हो रहा था, वहां पहुंचे तो देखकर दंग रह गए। वहां डेढ़ सौ से ज्यादा लोग मौजूद थे। छापा लगते ही वहां भगदड़ मच गई। अधिकांश लोग फरार हो गए। यूसुफ बादशाह सहित पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया है। 

एसओ ने नहीं उठाया एडीएम का फोन 
एडीएम ने मौके से ही देहली गेट थाना प्रभारी रवेंद्र पलावत को फोन किया। एसओ ने एडीएम का फोन नहीं रिसीव किया। इसके बाद एडीएम ने एसपी सिटी को सूचना दी। तब जाकर पुलिस हरकत में आई। देर रात सभी के खिलाफ लॉकडाउन का उल्लंघन सहित कई धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया गया।

पुलिस-एलआईयू बेखबर
पूरे प्रकरण में मेरठ पुलिस की बड़ी लापरवाही सामने आई। जहां जलसा हो रहा था, वहां से थाने की दूरी चंद कदमों की है। दो दिन से जलसा हो रहा था। बावजूद इसके एलआईयू बेखबर रही। एडीएम को पता चला है कि यूसुफ बादशाह युवा सेवा समिति से भी जुड़ा हुआ है।

पुलिस को मत देना सूचना 
फोन करने वाले ने एडीएम सिटी अजय तिवारी से कहा कि वह स्वंय जाकर छापेमारी करें। थाना पुलिस को सूचना दी तो बिना कार्रवाई पुलिस खाली हाथ लौटकर आ जाएगी। इस पर एडीएम सिटी ने तुरंत छापेमारी कर दी।

बाहर बल्लियां, अंदर जलसा
एडीएम ने बताया कि बाहर बल्लियां लगाकर रास्ता रोक रखा था। वहां पुलिस भी तैनात थी। मोहल्ले के अंदर डेढ़ सौ लोगों का जमावड़ा कर रखा था। पकड़े गए आरोपी युसूफ बादशाह ने एडीएम से कहा कि वह एसओ देहली गेट से जानकारी कर लें। पुलिस से परमिशन ले रखी है। एडीएम सिटी के हड़काने के बाद वह पलट गया। 

13 पॉजिटिव मिले थे, पुलिस पर हुआ था पथराव
जली कोठी इलाके में 13 कोरोना संक्रमित केस आ चुके हैं। यहां पुलिस पर पथराव भी हुआ था। सिटी मजिस्ट्रेट सहित कई लोग घायल हुए थे। यह पूरा इलाका हॉटस्पॉट घोषित है। गुरुवार को सम्पूर्ण लॉकडाउन था। बावजूद इसके कार्यक्रम में भीड़ जमा कर रखी थी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Jalsa in meerut UP lockdown more than 150 involved police reached the stampede