अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

IPS Suicide Case: मुखाग्नि के बाद भाई का आरोप, रवीना के आंसू दिखावटी

Surendra Das Death

मुखाग्नि देने के बाद एसपी पूर्वी सुरेंद्र दास के भाई नरेंद्र दास एक बार फिर से रवीना व उनके परिजनों पर जमकर भड़के। नरेंद्र दास बोले रवीना व उनके परिजन सिर्फ मीडिया को दिखाने के लिए उनके घर व बैकुंठ धाम दाह संस्कार में आए थे। डॉ. रवीना के आंसू दिखावटी है। क्रिया कर्म की सभी रीति रिवाज पूरे होने के बाद तहरीर देकर रिपोर्ट जरूर दर्ज कराऊंगा। 

लखनऊ के बैकुंठ धाम में एसपी पूर्वी सुरेंद्र दास का दाह संस्कार किया गया। मुखाग्नि देने के बाद उनके भाई नरेंद्र दास ने कहा कि डॉ. रवीना व उनके परिवार की वजह से मेरे भाई की मौत हुई है। वह पूरे विवाद की जड़ है। वह सिर्फ दिखावे के लिए लखनऊ घर और फिर घाट आई थीं। अगर भाई से लगाव होता तो घर पर ज्यादा देर रुकतीं, लेकिन वह सिर्फ 15 मिनट में चलती बनीं। मुझे अच्छी तरह से पता है। समाज कुछ न कहे, इसलिए रवीना और उनके पिता व अन्य परिजन आए थे। भाई की मौत के सदमे से मेरा परिवार कभी नहीं निकल पाएगा। परिवार को अलग करने के बावजूद रवीना सुरेंद्र को खुशी नहीं दे पाईं।

डीजीपी बोले.. दो जांबाज अफसर गंवा दिए
आईपीएस सुरेन्द्र दास को श्रद्धांजलि देने बैकुण्ठ धाम पहुंचे डीजीपी ओपी सिंह काफी दुखी थे। डीजीपी का यह दर्द उनकी बात में छलक भी गया। उन्होंने कहा कि.. इस साल यूपी पुलिस ने अपने दो जांबाज अफसर गंवा दिए। इसकी भरपाई नहीं की जा सकती है। डीजीपी ने एटीएस के एडीशनल एसपी राजेश साहनी को भी याद किया। उन्होंने कहा कि पुलिस अधिकारियों व कर्मियों को तनाव से बचाने के लिए काउंसलिंग, मेडिटेशन पर ध्यान दिया जाएगा। डीजीपी ने कहा कि नौजवान आईपीएस सुरेन्द्र दास की जान बचाने की हर संभव कोशिश की गई। लेकिन, ईश्वर की मर्जी के आगे किसी की नहीं चलती। डीजीपी ने शोकाकुल परिवार को ढांढस बंधाया और कहा कि पूरा पुलिस परिवार उनके साथ है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:IPS Suicide case brother of Surendra Das cried after giving fire said his wife raveena tear is showy