ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशराम मंदिर उद्घाटन का आमंत्रण कार्ड ही काफी नहीं, एंट्री के लिए VVIP को भी करना होगा ये काम 

राम मंदिर उद्घाटन का आमंत्रण कार्ड ही काफी नहीं, एंट्री के लिए VVIP को भी करना होगा ये काम 

अयोध्या में राम मंदिर उद्घाटन समारोह में एंट्री के लिए आमंत्रण कार्ड ही काफी नहीं होगा। लिंक से बार कोड जनरेट करना होगा फिर एंट्री मिलेगी।

राम मंदिर उद्घाटन का आमंत्रण कार्ड ही काफी नहीं, एंट्री के लिए VVIP को भी करना होगा ये काम 
Deep Pandeyहिन्दुस्तान,अयोध्याThu, 07 Dec 2023 11:22 AM
ऐप पर पढ़ें

अयोध्या में राम मंदिर के शुभारंभ समारोह और राम लला की प्राण प्रतिष्ठा समारोह के लिए तैयारियां तेज हैं। रामलला का प्राण प्रतिष्ठा समारोह 22 जनवरी को होने वाला है। इस समारोह के लिए देश के VVIP को न्योता गया है। समारोह के लिए सुरक्षा के कड़े प्रबंध किए जा रहे हैं। आम हो या खास किसी को भी समारोह में ऐसे ही एंट्री नहीं मिलेगी। ट्रस्ट के मुताबिक समारोह से पहले आमंत्रित लोगों के साथ एक लिंक भी साझा किया जाएगा। ट्रस्ट के सदस्य अनिल मिश्रा ने बताया कि एक बार जब वे लिंक के साथ पंजीकृत हो जाते हैं, तो एक बार कोड उत्पन्न हो जाएगा। यह बार कोड प्रवेश पास के रूप में कार्य करेगा।

सचिन तेदुलकर व विराट कोहली भी मेहमान
22 जनवरी को होने वाले प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम में देश विदेश के मेहमान आमंत्रित किए गए हैं। खास तौर पर क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर, व विराट कोहली को न्योता भेज दिया गया है। तीर्थ क्षेत्र इस दौरान कुल 7 हजार मेहमानों को आमंत्रित किया है। तीर्थ क्षेत्र ने 25 हजार मेहमानों के रुकने की व्यवस्था कर रहा है। महासचिव चंपत राय कहते हैं कि हमें नहीं मालूम है कि कितने लोग आएंगे। एक लाख आएंगे कि दस लाख। लेकिन कोशिश रहेगी कि कोई ठंड में परेशान न हो। 

राममंदिर का ध्वज दंड 44 फिट ऊंचा  
राममदिर के भूतल व प्रथम तल का निर्माण दिसंबर के अंत तक पूरा हो जाएगा। बताया जाता है कि पूरा मंदिर दिसंबर 2024 तक पूरा हो जाएगा। शिखर निर्माण के बाद उसके ऊपर एक ध्वज दंड लगाया जाना है। 44 फिट ऊंचे इस ध्वज दंड को पीतल से बनाया जा रहा है। इसे अहमदाबाद के अंबिका इंजीनियरिंग के कारीगर तैयार कर रहे हैं।  इसे शास्त्रों की विधि से तैयार किया जा रहा है। इसका वजन 5500 किलो है। 
 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें