DA Image
19 सितम्बर, 2020|11:33|IST

अगली स्टोरी

लॉकडाउन : जितनी गाड़ी चलेगी, उसी हिसाब से देना होगा बीमा प्रीमियम

car insurance

लॉकडाउन में वर्क फ्रॉम होम कल्चर को देखते हुए बीमा कंपनियों ने नया प्लान तैयार किया है। अब गाड़ी की ड्राइविंग के आधार पर प्रीमियम तय होगा। इससे कम गाड़ी चलाने वाले ग्राहक का बीमा सस्ता हो जाएगा। एक निजी कंपनी ने ड्राइविंग के आधार पर प्रीमियम का प्लान पेश कर दिया है। सरकारी क्षेत्र की न्यू इंडिया एश्योरेंस सहित तीन अन्य कंपनियां भी जल्द इस प्लान को पेश करने की तैयारी में हैं।

सड़कों पर गाड़ियों की भागदौड़ कम से कम 30 फीसदी घटने का अनुमान है। बीमा नियामक आईआरडीए (इरडा) ने जनरल इंश्योरेंस कंपनियों से कहा था कि गाड़ियों की कम ड्राइविंग को बढ़ावा देने के लिए नया प्लान तैयार करें, जिसमें ड्राइविंग के आधार पर प्रीमियम तय किया जाए। यह योजना बीमा नियामक की सैंडबॉक्स परियोजना के तहत निजी कार मालिकों के लिए तैयार की गई है। इसमें कार मालिक को उसकी कार द्वारा तय की गई दूरी के हिसाब से प्रीमियम का भुगतान करना होगा।

ग्राहक को एक साल में अपनी कार से तय की जाने वाली अनुमानित दूरी की पहले से जानकारी देनी होगी। इसी आधार पर कंप्यूरीकृत प्रणाली से प्रीमियम तय होगा। कंपनी ने ग्राहकों के लिए तीन स्लैब बनाए हैं- 2500 किमी, 5000 किमी और 7500 किमी। ग्राहकों को इनमें से से किसी एक को चुनना होगा। उन्हें ओडोमीटर की रीडिंग, केवाईसी डिटेल्स और सहमति फॉर्म भरना होगा। प्री-डिक्लेयर्ड स्लैब के मुताबिक प्रीमियम के आधार पर ओन डैमेज प्रीमियम की गणना होगी और पॉलिसी मिल जाएगी।

ग्राहकों को राहत देने के लिए यह एक अच्छी योजना है। इससे कम से कम 2 लाख बीमा धारकों को फायदा मिलेगा जो नॉन मेट्रो, छोटे शहरी क्षेत्र में रहते हैं और एक महीने में 300 से 400 किलोमीटर कार ही चलाते हैं। -अजय शंकर निगम, महासचिव, यूपी जनरल इंश्योरेंस एंप्लाइज एसोसिएशन

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:insurance premium will have to be paid accordingly for the vehicle you drive