ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशलखनऊ में इंडिया-इंग्लैंड मैचः यहां से लिया है टिकट तो नहीं मिलेगी स्टेडियम में एंट्री, बेचने वालों पर FIR

लखनऊ में इंडिया-इंग्लैंड मैचः यहां से लिया है टिकट तो नहीं मिलेगी स्टेडियम में एंट्री, बेचने वालों पर FIR

लखनऊ के इकाना स्टेडियम में 29 अक्टूबर इंडिया और इंग्लैड के बीच विश्व कप का मैच होने जा रहा है। इस मैच के लिए फर्जी वेबसाइट खोलकर टिकट बेचे गए हैं। इस वेबसाइट से टिकट लेने वालों को एंट्री नहीं मिलेगी।

लखनऊ में इंडिया-इंग्लैंड मैचः यहां से लिया है टिकट तो नहीं मिलेगी स्टेडियम में एंट्री, बेचने वालों पर FIR
Yogesh Yadavलाइव हिन्दुस्तान,लखनऊThu, 26 Oct 2023 06:56 PM
ऐप पर पढ़ें

लखनऊ के इकाना स्टेडियम में भारत-इंग्लैण्ड के बीच 29 अक्तूबर को होने वाले विश्वकप क्रिकेट मैच के टिकट फर्जी वेबसाइट से बेचे जाने के मामले में सुशांत गोल्फ सिटी कोतवाली में एफआईआर दर्ज कर ली गई। आईसीसी और बीसीसीआई के इसे फर्जी बताने के बाद पुलिस ने अपनी तरफ से तहरीर दी थी। इसमें कोई नामजद नहीं किया गया है। जेसीपी कानून व्यवस्था उपेन्द्र कुमार अग्रवाल की मानीटरिंग में इसकी विवेचना साइबर सेल को दी गई है। अधिकारियों ने साफ कर दिया है कि जिन लोगों ने इस वेबसाइट से टिकट खरीदे हैं उन्हें स्टेडियम में प्रवेश नहीं दिया जाएगा। 

सब इंस्पेक्टर धीरेन्द्र प्रताप सिंह की एफआईआर के मुताबिक  iccworldcuptickets.com वेबसाइट से विश्वकप क्रिकेट मैच के टिकट बेचे जाने की एक व्यक्ति ने गोपनीय शिकायत की थी। इसे जब खोला गया तो उसमें क्रिक बज का लोगो दिखता है। फिर उसमें ऑल लोकेशंस पर 45 इवेंट के टिकट बेचने की जानकारी सामने आती है। इसमें विश्व कप क्रिकेट के मैच के टिकट भी खरीदने के लिये स्क्रीन पर कई जानकारियां दिखने लगती है। इसमें 2811 रुपये से लेकर 13 हजार 750 रुपये के टिकट बिकते दिखते हैं। यह मामला इसलिये पकड़ में आ गया क्योंकि आईसीसी व बीसीसीआई से अधिकृत बुक माई शो एप से ही खरीदे टिकट मान्य हैं। इस वेबसाइट से टिकट बिक्री होनी ही नहीं थी।

क्रिक बज का लोगो अलग रंग के साथ इस्तेमाल किया
इस वेबसाइट को खोलने पर क्रिक बज का लोगो भी नजर आता है। साफ दिखता है कि यह लोगो क्लोनिंग करके लगाया गया है। इसका रंग नीला दिखाया गया है जबकि क्रिक बज का असली लोगो सफेद है। इसके अलावा इस वेबसाइट पर कई ब्राण्ड के लोगो का इस्तेमाल किया गया है।

यह नहीं पता कितने टिकट बिके
जेसीपी का कहना कि साइबर सेल इस मामले की जांच कर रही है। अभी यह नहीं पता चल सका है कि इससे कितने टिकट बेचे जा चुके हैं। माना जा रहा है कि काफी संख्या में इन लोगों ने टिकट बेच लिये हैं। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि अब मैच के दिन इकाना स्टेडियम के गेट पर ऐसे टिकटों की पहचान करने के लिये विशेष सतर्कता बरतनी पड़ेगी। इन टिकटों को खरीदने वालों को प्रवेश नहीं मिलेगा।

बुक माई शो एप से खरीदे टिकट ही मान्य
जेसीपी उपेन्द्र कुमार अग्रवाल ने बताया कि विश्वकप क्रिकेट मैच के टिकट ऑनलाइन सिर्फ बुक माई शो एप को बेचने के लिये ही अधिकृत किया गया है। इसके एप व वेबसाइट से खरीदे गये टिकट से ही स्टेडियम में प्रवेश मिलेगा। यह पहले भी दर्शकों से अपील की जा चुकी है कि कोई और माध्यम से लिया गया टिकट फर्जी माना जायेगा।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें