DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भारत व रूस के बीच 50 बिलियन डॉलर का निवेश होगा: मुख्यमंत्री

 yogi  russia  departs

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि भारत व रूस के बीच वर्ष 2025 तक 30 बिलियन डॉलर द्विपक्षीय व्यापार होने के साथ ही 50 बिलियन डॉलर निवेश का लक्ष्य रखा गया है। उत्तर प्रदेश रूस में ठेके पर खेती की संभावनाएं भी देख रहा है। उन्होंने बताया कि रूस ने डिफेंस कारिडोर में निवेश का भरोसा दिया है।

मुख्यमंत्री रूस की तीन दिवसीय यात्रा से लौटने के बाद बुधवार को पांच कालीदास मार्ग पर पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा उत्तर प्रदेश ने कृषि और खाद्य प्रसंस्करण सेक्टर में रूस के साथ 7 एमओयू और एक समझौते पर हस्ताक्षर किया है। रूस में प्रचुर मात्रा में प्राकृतिक संसाधन मौजूद हैं। रूस के सुदूर पूर्वी क्षेत्र में लगभग 5 मिलियन हेक्टेयर क्षेत्र कृषि योग्य खाली जमीन पड़ी है। 

रूस में मानव श्रमशक्ति और तकनीकी की कमी है। हमने प्रस्ताव रखा है कि आपके पास जमीन है और हमारे पास मानव श्रमशक्ति। रूस में वनस्पति बागवानी व खाद्य प्रसंस्करण की संभावनाओं को भारत आगे बढ़ा सकता है। उन्होंने बताया कि केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल के नेतृत्व में भारत के पांच राज्यों के मुख्यमंत्री रूस यात्रा पर गए थे। इसमें उनके साथ हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर, गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी और गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत थे। भौगोलिक दृष्टि से रूस दुनिया का सबसे बड़ा देश है और आबादी के हिसाब से देखेंगे तो कुल 15 करोड़ ही है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि सुदूर पूर्वी क्षेत्र रूस के कुल क्षेत्रफल का 36 फीसदी है और मात्र 5 फीसदी रूसी जनसंख्या यहां निवास करती है। इस क्षेत्र में औसतन एक वर्ग किलोमीटर में एक से कम व्यक्ति रहते हैं। उन्होंने कहा कि भारत दुनिया में उभरती हुई शक्ति के रूप में दिखाई दे रहा है। रूस में अगले महीने होने वाले इकनोमिक फोरम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को मुख्य अतिथि बनाए गए हैं।

उप्र व रूस के बीच करार

- कृषि व खाद्य प्रसंस्करण के क्षेत्र में काम साथ काम करेंगे
- एकेडेमिक एवं सांस्कृतिक आदान-प्रदान होगा
- शिक्षा एवं शोध के क्षेत्र में एमिटी यूनिवर्सिटी व रूस की फार ईस्ट फेडरल यूनिवर्सिटी के बीच करार
- नेशनल स्किल डवलपमेंट एंड एक्सपोर्ट एजेंसी के बीच करार
- सेंटर फॉर योग स्थापित करने का फैसला
- कृषि व खाद्य प्रसंस्करण के क्षेत्र में उद्योग स्थापित करेंगे
- एलाना सन्स एवं लुलु एओवी एग्रो एक्सपोर्ट के बीच करार
---
निवेश की संभावनाएं तलाशेंगे
- कृषि, खाद्य प्रसंस्करण, नवीकरणीय ऊर्जा
- पर्यटन, टिंबर, हेल्थकेयर, हास्पिटल
-तेल, गैस और ऊर्जा, मेटल, मिनरल, रेयर अर्थ एवं मछली
- कौशल विकास, शिक्षा, मानव संसाधन

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:India and Russia to invest 50 billion says Chief Minister yogi aditya nath