ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशतंबाकू कारोबारी के कानपुर, दिल्ली समेत कई ठिकानों पर आयकर छापे, देर रात तक एक्शन

तंबाकू कारोबारी के कानपुर, दिल्ली समेत कई ठिकानों पर आयकर छापे, देर रात तक एक्शन

तंबाकू कारोबारी के कानपुर, दिल्ली समेत कई ठिकानों पर आयकर विभाग ने छापेमारी की। बड़ी चोरी और लेनदेन में गड़बड़ी समेत कई खामियों की शिकायत मिलने पर शुरू हुई छापेमारी देर रात तक जारी रही। 

तंबाकू कारोबारी के कानपुर, दिल्ली समेत कई ठिकानों पर आयकर छापे, देर रात तक एक्शन
Deep Pandeyहिन्दुस्तान,कानपुरFri, 01 Mar 2024 05:06 AM
ऐप पर पढ़ें

आयकर विभाग लंबे समय बाद फिर एक्शन मोड में दिखा। तंबाकू कारोबार से जुड़ी फर्म वंशीधर श्रीराम प्राइवेट लिमिटेड के ठिकानों पर गुरुवार को छापे मारे गए। कानपुर, दिल्ली और अहमदाबाद स्थित फैक्टरी में एक साथ कार्रवाई की गई। आयकर की बड़ी चोरी और लेनदेन में गड़बड़ी समेत कई खामियों की शिकायत मिलने पर शुरू हुई छापेमारी देर रात तक जारी रही। जानकारी के अनुसार, करीब 80 साल से तंबाकू के व्यापार से जुड़ी फर्म के मालिक केके मिश्रा उर्फ मुन्ना मिश्रा का नयागंज में पुराना कार्यालय व गद्दी है। गुरुवार दोपहर करीब डेढ़ बजे आयकर विभाग के अफसर 6 गाड़ियों से पहुंचे और परिसर को अपने कब्जे में ले लिया। यहां मौजूद कर्मचारियों के मोबाइल भी ले लिए गए। कागजी दस्तावेजों के साथ इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस को भी कब्जे में ले लिया। पुलिस ने परिसर की घेराबंदी कर डाली। रीयल इस्टेट, बेनामी संपत्तियों के अलावा नकदी की भी तलाश की जा रही है। 

बेनाझाबर स्थित बंगले में भी छापा  
आयकर अधिकारियों ने बेनाझाबर स्थित बृजेंद्र स्वरूप पार्क के सामने स्थित कारोबारी के बंगले पर भी छापा मारा। हालांकि बताया गया कि यह बंगला अधिकांश समय बंद रहता है। कारोबारी अपने परिवार के साथ दिल्ली में रहते हैं। इस बंगले में कर्मचारियों की आवाजाही रहती है। 

दिल्ली के वसंत विहार भी पहुंची टीम 
आयकर अधिकारियों की एक टीम कारोबारी केके मिश्रा के दिल्ली स्थित आवास पर भी पहुंची। वसंत विहार में बना यह बंगला दोपहर बाद से ही अफसरों की निगरानी में आ गया। बताया गया कि परिवार के सदस्यों को भी घर से निकलने पर रोक लगाकर पूछताछ की गई। 

अहमदाबाद से जुड़े हैं छापे के तार  
सूत्रों के अनुसार, तंबाकू कारोबारी के ठिकानों पर ताबड़तोड़ छापे के तार अहमदाबाद से जुड़ रहे हैं। अहमदाबाद स्थित फैक्टरी में कई बड़ी गड़बड़ियों की सूचना है। इसी के आधार पर आयकर विभाग के रडार पर तंबाकू कारोबारी आए। बताया गया कि विभाग को फैक्टरी से कई तरह की खामियों के साक्ष्य मिले, इसके बाद कार्रवाई दिल्ली से कानपुर तक की गई। 

80 साल पुराना कारोबार 
सूत्रों के अनुसार, तंबाकू कारोबारी का व्यापार आज का नहीं बल्कि 80 साल पुराना है। फिलहाल चौथी पीढ़ी कारोबार को संभाल रही है। कारोबारी केके मिश्र के दादा वंशीधर मिश्र ने कारोबार शुरू किया था। साइकिल से वह तंबाकू की सप्लाई दुकानों में करते थे। इनके बाद पिता श्रीराम मिश्र ने धीरे-धीरे कारोबार को उछाल दी। शहर से निकलकर यह प्रदेश फिर देशभर में छा गया। देश की नामी पान मसाला कंपनियों को  तंबाकू की आपूर्ति करने की सूचना है। मौजूदा समय में केके मिश्रा उर्फ मुन्ना मिश्रा व उनके बेटे शिवम मिश्र कारोबार को संभाल रहे हैं। 

नयागंज के कारोबारी एक बार फिर सहमे  
नयागंज बाजार लगातार जांच एजेंसियों के निशाने पर है। आयकर, जीएसटी और डीआरआई ने सालभर में लगभग आठ बार यहां छोटी-बड़ी कार्रवाई की है। गुरुवार को एक बार फिर विभागीय अधिकारियों की एक साथ गाड़ियां देखकर कारोबारी सहम गए।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें