ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशमहाराष्ट्र में भाजपा अकेले लड़ती चुनाव तो पूर्ण बहुमत पाती : शाहनवाज

महाराष्ट्र में भाजपा अकेले लड़ती चुनाव तो पूर्ण बहुमत पाती : शाहनवाज

महाराष्ट्र में भाजपा अकेले चुनाव लड़ती तो पूर्ण बहुमत हासिल कर लेती। शिवसेना ने जनादेश का अपमान किया। उसने हिन्दुत्व और बाला साहेब के सिद्धान्तों को तिलांजलि दे दी और कांग्रेस की गोद में बैठ कर सत्ता...

महाराष्ट्र में भाजपा अकेले लड़ती चुनाव तो पूर्ण बहुमत पाती : शाहनवाज
प्रमुख संवाददाता,लखनऊFri, 29 Nov 2019 08:59 PM
ऐप पर पढ़ें

महाराष्ट्र में भाजपा अकेले चुनाव लड़ती तो पूर्ण बहुमत हासिल कर लेती। शिवसेना ने जनादेश का अपमान किया। उसने हिन्दुत्व और बाला साहेब के सिद्धान्तों को तिलांजलि दे दी और कांग्रेस की गोद में बैठ कर सत्ता हासिल कर ली।

शुक्रवार को भाजपा के प्रदेश मुख्यालय पहुंचे राष्ट्रीय प्रवक्ता शाहनवाज हुसैन ने कहा कि सब कुछ लुटा कर सीएम पद पाए तो क्या हुआ। शाहनवाज ने मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड पर मंदिर मुद्दे पर औवेसी के दबाव में काम करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि बोर्ड को पुनर्विचार याचिका दायर करने के फैसले से पहले मुस्लिमों के बीच रायशुमारी करानी चाहिए। कहा कि बोर्ड ने अधिकतर मुस्लिमों का अपमान किया है।

श्री हुसैन ने कहा कि महाराष्ट्र में भाजपा ने जिन सीटों पर चुनाव लड़ा, वहां उसका स्ट्राइक रेट 70 फीसदी रहा, जबकि उसके गठबंधन सहयोगी रहे शिवसेना का यही रेट 40 फीसदी रहा। चुनाव से पहले शिवसेना के साथ सत्ता में 50-50 फीसदी की हिस्सेदारी की कोई बात ही नहीं हुई। मुख्यमंत्री पद के लिए शिवसेना ने बाल हठ किया।

आज स्थिति यह है कि भाजपा वहां नम्बर एक पार्टी है। शिवसेना ने तीसरे और चौथे नम्बर की पार्टी के साथ गठबंधन कर लिया। महाराष्ट्र में कर्नाटक की पुनरावृत्ति हुई है। शिवसेना के इस कृत्य से महाराष्ट्र की जनता ठगा हुआ महसूस कर रही है। कांग्रेस शिवसेना को सेक्युलर नहीं मानती, तभी कॉमन मिनिमम प्रोग्राम में उसने सेक्युलर शब्द जुड़वाया। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि वह विश्व के सबसे बड़े राजनीतिक दल के मुस्लिम नेता हैं। ओवैसी उनके सामने कहीं नहीं ठहरते।