ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशयूपी के इस जिले में अवैध निर्माण पर चलेगा बुलडोजर, रडार पर कॉलोनियां, त्योहार के बाद एक्शन

यूपी के इस जिले में अवैध निर्माण पर चलेगा बुलडोजर, रडार पर कॉलोनियां, त्योहार के बाद एक्शन

यूपी के पीलीभीत में कॉलोनियां विकसित करने वाले एक बार फिर जिला प्रशासन के रडार पर आ गए हैं। नोटिस के बाद अनधिकृत कॉलोनी विकसित करने वालों के निर्माण पर बुलडोजर चलेगा।

यूपी के इस जिले में अवैध निर्माण पर चलेगा बुलडोजर, रडार पर कॉलोनियां, त्योहार के बाद एक्शन
Deep Pandeyहिन्दुस्तान,पीलीभीतTue, 14 Nov 2023 11:42 AM
ऐप पर पढ़ें

यूपी में अवैध निर्माण पर योगी सरकार की सख्ती बढ़ती जा रही है। दीपावली का पर्व निपटते ही अनधिकृत रूप से कॉलोनियां विकसित करने वाले एक बार फिर जिला प्रशासन के रडार पर आ गए हैं। नोटिस के बाद जवाब दाखिल न करने वाले अनधिकृत कॉलोनी विकसित करने वालों के निर्माण पर बुलडोजर चलेगा। इसकी तैयारियां कर ली गई है। दफ्तर खुलते ही प्रशासन की सख्ती जमीनी रूप लेगी।

अवैध कॉलोनियां बनाने वाले कॉलोनाइजरों को जिला प्रशासन ने नोटिस जारी किया था। इसके बाद कार्रवाई भी हुई थी। इसमें भाजपा कार्यालय के पीछे बनी वृंदावन नाम की कॉलोनी में अवैध निर्माण को ढहा दिया गया था। तब मामला जिला प्रशासन तक गया। कॉलोनाइजरों ने अपने अधिकृत दस्तावेज दिखाने की बात कही तो डीएम ने साक्ष्यों को जमा कराने को कह दिया था। इस मामले में अलावा शहर में बिना मानक और बिना नक्शा पास कराए अन्य कॉलोनियां भी विकसित करने का ब्योरा जिला प्रशासन ने जुटा लिया है। खामोशी के साथ कराए गए सर्वे के बाद पूरी रिपोर्ट बिंदुवार बना कर डीएम प्रवीण कुमार लक्षकार के सामने रखी जा चुकी है।

सिटी मजिस्ट्रेट सुनील कुमार ने बताया कि कुछ लोगों ने नोटिस का जवाब नहीं दिया तो कुछ लोगों ने अपने संबंधित साक्ष्य नहीं दिखाए। अनाधिकृत निर्माण व अतिक्रमण चिह्नित कर लिया गया है। त्योहार निपट चुका है। एक्शन होगा।

पिछले दिनों 19 लोगों को जारी किए गए थे नोटिस

पिछले दिनों 19 लोगों को नोटिस दिया था, जिसमें से कुछ ने जवाब दिया था। जवाब न देने वालों को चिन्हित करते हुए प्रशासिक अफसरों ने रणनीति बना ली है। दीपावली बीती चुकी है किसी भी दिन कार्रवाई होगी।

अफसरों ने बनाई रणनीति

शहर के इर्द गिर्द सेफ जोन में बनाई गई कॉलोनियों पर ऐसा नहीं था कि प्रशासनिक अधिकारियों की नजर नही थी। पर इसमें बार बार अधिकारियों ने वक्त देकर अपना जवाब दाखिल करने का समय दिया था। पर इस पर किसी ने नजर नहीं की। दीपावली से पहले ही एक जगह एक्शन के बादा अब नये स्थान रडार पर हैं।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें