DA Image
5 अगस्त, 2020|7:36|IST

अगली स्टोरी

हद है :एम्बुलेंस नहीं मिली तो इटियाथोक में कार से अस्पताल गया कोरोना मरीज 

गोंडा जिले में इटियाथोक से दो पॉजिटिव केस मिले। इटियाथोक मुख्य बाजार के स्टेशन रोड पर किराने की दुकान कर रहे एक युवक कोरोना पॉजिटिव है। पॉजिटिव मिले मरीज को एम्बुलेंस न मिलने से परिजन मरीज़ को खुद इलाज के लिए अपनी गाड़ी से कोविड लेवल-1 अस्पताल पडरी कृपाल लेकर चले गए।

बुधवार को आई रिपोर्ट मे जिले का रिकार्ड टूट गया एक साथ 39 मरीज़ कोरोना पॉजिटिव पाए गए। जिससे मरीज़ को कोविड लेवल-1 अस्पताल ले जाने के लिए एम्बुलेंस भी कम पड़ गई। इटियाथोक में मिले कोरोना पॉजिटिव मरीज़ को शुगर बढ़ने के साथ सांस लेने मे दिक्कत की शिकायत है।

सीएचसी इटियाथोक अधीक्षक डा. श्वेता तिवारी ने स्वास्थ्य विभाग की एक टीम भेजकर कोरोना से संक्रमित व्यक्ति की जांच के साथ परिवार के अन्य लोगों से जानकारी एकत्रित की। मरीज़ को सांस लेने मे दिक्कत होने के कारण परिवार के लोग बार बार सीएचसी अधीक्षक को फोन करने लगे परिवार को उपाय न मिलने पर परिवार के लोग आपने साधन से इलाज के लिए कोविड लेवल-1 अस्पताल पडरी कृपाल ले गए।

सीएचसी अधीक्षक ने बताया कि बाजार मे मिले कोरोना पॉजिटिव मरीज़ की मेडिकल हिस्ट्री के साथ जरूरी जाँच कारवाई गई है समय पर एम्बुलेंस की व्यवस्था न होने से परिवार के लोगों से कहा गया कि वह मरीज़ को अपने साधन से कोविड लेवल-1 अस्पताल पडरी कृपाल भर्ती करवा दे। सीएमओ ने बताया कि दिक्कत है लेकिन क्या किया जाए।
 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:if the ambulance was not found the corona patient went to the hospital by car in Itiathok