ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेशधर्म परिवर्तन के फायदे गिनाते आईएएस इफ्तिखारुद्दीन का वीडियो वायरल, डिप्टी सीएम ने जांच की बात कही

धर्म परिवर्तन के फायदे गिनाते आईएएस इफ्तिखारुद्दीन का वीडियो वायरल, डिप्टी सीएम ने जांच की बात कही

एक वरिष्ठ आईएएस का कुछ लोगों के साथ वीडियो वायरल हुआ है। इसमें धर्म परिवर्तन संबंधी आपत्तिजनक बातें कही जा रही हैं। वीडियो कानपुर के पूर्व मंडलायुक्त सीनियर आईएएस व वर्तमान में यूपीएसआरटीसी के...

धर्म परिवर्तन के फायदे गिनाते आईएएस इफ्तिखारुद्दीन का वीडियो वायरल, डिप्टी सीएम ने जांच की बात कही
Yogesh Yadavकानपुर। वरिष्ठ संवाददाताMon, 27 Sep 2021 10:56 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

एक वरिष्ठ आईएएस का कुछ लोगों के साथ वीडियो वायरल हुआ है। इसमें धर्म परिवर्तन संबंधी आपत्तिजनक बातें कही जा रही हैं। वीडियो कानपुर के पूर्व मंडलायुक्त सीनियर आईएएस व वर्तमान में यूपीएसआरटीसी के अध्यक्ष इफ्तिखारुद्दीन का बताया जा रहा है। कानपुर के वरिष्ठ कर्मचारी नेता भूपेश अवस्थी ने मुख्यमंत्री से शिकायत कर जांच व कार्रवाई की मांग की है। वहीं, उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने जांच का आश्वासन दिया है। हिन्दुस्तान इस वायरल वीडियो की पुष्टि नहीं करता है।

तीन वीडियो वायरल

वीडियो एक सुसज्जित घर के अंदर के हैं जो देखने में सरकारी आवास जैसा लग रहा है। इसमें एक वक्ता जमीन पर बैठे लोगों को संबोधित कर रहा है। वह कहता है कि अल्लाह ने हमें उत्तर प्रदेश के तौर पर ऐसा सेंटर दिया है, जहां से पूरे देश-दुनिया में काम कर सकते हैं। उसके बाद इफ्तिखारुद्दीन इस्लाम में होने के फायदे गिनाते हैं। वह कहते हैं-ऐलान करो दुनिया के इंसानों से कि अल्लाह की बादशाहत और निजामियत पूरी दुनिया में कायम करनी है। 

सीनियर आईएएस के साथ जिस वक्ता का वीडियो वायरल हुआ है, वह अधिकारी समेत वहां जमीन पर बैठे अन्य लोगों को बताता है कि पंजाब में एक व्यक्ति ने इस्लाम कबूल कर लिया। मैंने उनको इस्लाम कबूल करने के लिए दावत नहीं दी थी। मैंने उनसे इस्लाम कबूल करने की वजह पूछी। इसके आगे आपत्तिजनक संवाद हैं। एक वीडियो में आईएएस ने पूर्व उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी की किताब का भी जिक्र किया है। दूसरे वीडियो में वह कहते हैं कि हर घर में अल्लाह का दीन दाखिल होना है, करना चाहिए। उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य का कहना है कि अभी इस वीडियो के बारे में कोई जानकारी नहीं है। अगर ऐसा है तो जांच कराई जाएगी। दोषियों पर सख्त कार्रवाई होगी।

कर्मचारी नेता भूपेश अवस्थी का कहना है कि मुझे इन वीडियो के बारे में जानकारी हुई थी। उसमें आपत्तिजनक बातें हैं। यह धर्म परिवर्तन की साजिश हो सकती है। मोहम्मद इफ्तिखारुद्दीन यह कर रहे हैं। किसी भी अधिकारी को अधिकार नहीं कि ऐसे वीडियो बनाकर डाले। यह राजकीय नियमावली के विरुद्ध है। इसमें सरकारी आवास का इस्तेमाल प्रतीत हो रहा है। मुख्यमंत्री को वीडियो और शिकायती पत्र ट्वीट किया है। साथ ही पोर्टल पर शिकायत दर्ज कराई है।

epaper