ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशहॉरर कीलिंग: सगे भाइयों ने गला दबाकर हत्या की, फिर पेट्रोल डालकर जला दी बहन की लाश 

हॉरर कीलिंग: सगे भाइयों ने गला दबाकर हत्या की, फिर पेट्रोल डालकर जला दी बहन की लाश 

Horror Killing in Lucknow: काकोरी में दो सगे भाइयों ने अपनी बहन को दूसरे धर्म के युवक से प्रेम की सजा में मौत दे दी। उसे बेरहमी से मौत के घाट उतार दिया फिर पेट्रोल डालकर शव जला दिया।

हॉरर कीलिंग: सगे भाइयों ने गला दबाकर हत्या की, फिर पेट्रोल डालकर जला दी बहन की लाश 
Ajay Singhहिन्दुस्तान टीम,लखनऊ-हरदोईMon, 17 Jun 2024 09:37 AM
ऐप पर पढ़ें

Horror killing in Lucknow: लखनऊ के काकोरी में दो सगे भाइयों ने अपनी बहन को दूसरे धर्म के युवक से प्रेम की सजा में मौत दे दी। उसे बेरहमी से मौत के घाट उतार दिया फिर पेट्रोल डालकर शव जला दिया। मामले का खुलासा रविवार को पुलिस ने दोनों आरोपितों को गिरफ्तार करके किया। पुलिस ने बताया कि युवती 30 मई से लापता थी। वह दूसरे धर्म के युवक से प्रेम करती थी। परिवारीजनों ने उससे मिलने से मना किया था लेकिन वह नहीं मानी। इस पर ही दोनों भाई उसे मौसी की तबियत खराब बताकर हरदोई के अतरौली ले गये और उसकी हत्या कर दी थी। हत्या के बाद उसका शव पेट्रोल डालकर जला दिया था। युवती के कई दिन तक न दिखने पर पड़ोसियों ने घर वालों से उससे कई बार पूछा लेकिन सब गोल मोल जवाब देकर उन्हें टालते रहे थे।

हरदोई के एएसपी पूर्वी नृपेंद्र सिंह के मुताबिक काकोरी स्थित कायस्थाना निवासी बिट्टी उर्फ संगीता का शव अतरौली में पड़ा मिला था। सीसी फुटेज के आधार पर पुलिस ने जांच शुरू की। उसके भाई दुर्गेश सैनी और शंकर उर्फ रवि की भूमिका संदिग्ध लगी तो दोनों को हिरासत में ले लिया गया। दोनों ने पुलिस को पहले बरगलाया लेकिन पुलिस ने कुछ तथ्य सामने रखे तो वह टूट गये। उन्होंने हत्या का पूरा सच बता दिया। एएसपी के मुताबिक दोनों भाइयों ने बताया कि उसकी बहन बिट्टी गैर समुदाय के युवक से प्रेम करती थी। परिवार इसका विरोध कर रहा था। कई बार मिलने से मना किया लेकिन वह नहीं मानी। इसी बात से खफा होकर 30 मई को मौसी की तबीयत खराब होने का बहाना बनाकर उसे कार में लेकर अतरौली आए। यहां पवैया गांव से गहडोल मार्ग पर बिट्टी को उतारा और गला दबाकर हत्या कर दी थी। उसके शव को पतवार से ढककर पेट्रोल डालकर आग लगा दी।

फुटेज से मिली मदद
पुलिस जब मौके पर पहुंची थी तो पता चला कि एक कार से दो लोग आये थे। ग्रामीणों ने दोनों युवकों का हुलिया भी पुलिस को बताया था। पुलिस ने फुटेज खंगालने शुरू किए तो एक स्थान पर कार और बताए गए हुलिया जैसे दो युवक दिखे। इसके जरिये ही पुलिस उनके लखनऊ, काकोरी स्थित घर तक पहुंच गई थी।

हर कोई हैरान रह गया
काकोरी में जब इस खुलासे का पता चला तो पड़ोसी हैरान रह गये। पड़ोसियों ने बताया कि बिट्टी हाईस्कूल की छात्रा थी। उसके चार भाई रोहन, गोविन्द,सूरज व अतुल हैं। पिता प्यारेलाल का दो साल पहले निधन हो चुका है। लोगों ने बताया कि कुछ समय पहले बिट्टी अपने प्रेमी के साथ चली भी गई थी। पर, घर वाले उसे समझाबुझा कर घर ले आये थे। वह बाद में शादी की जिद पर अड़ गई। पड़ोसियों ने बताया कि दूसरे धर्म के युवक से शादी की बात पर इनके घर में विवाद होता था लेकिन यह कभी नहीं लगा कि दोनों भाई इतना बड़ा कदम उठा लेंगे।