DA Image
22 अप्रैल, 2021|7:30|IST

अगली स्टोरी

यूपी: उन्नाव में सोते समय हिस्ट्रीशीटर की गोली मारकर हत्या

shop  youth shot

उन्नाव के सफीपुर कोतवाली क्षेत्र के कटरी अल्लीपुर कटरी गांव में सोमवार रात हिस्ट्रीशीटर की सोते समय गोली मारकर हत्या कर दी गई। गंगा कटरी इलाके में खेती की भूमि को लेकर चली आ रही रंजिश में वारदात को अंजाम दिया गया। डॉग स्कवायड, फॉरेंसिक टीम के साथ एसपी, एएसपी व सीओ ने मौके पर पहुंचकर जांच की। भाई की तहरीर पर पुलिस ने चार के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है। पुलिस आधा दर्जन लोगों को पूछताछ के लिए उठाया है।

गंगा कटरी के अल्लीपुर गांव के जुगुल रैदास का बेटा रामसहाय अपने साझीदारों मनियापुर गांव निवासी विनोद निषाद और कानपुर थाना चौबेपुर के चिंतापुरवा निवासी सुशील के साथ सोमवार रात फसल की रखवाली करने गया था। गंगा की रेती पर अवैध रूप से कब्जा कर उसमें लौकी की फसल बोई गई है। फसल की रखवाली करने के लिए तीनों पास ही स्थित अमरूद के बाग में फूस की झोपड़ी डाल रखी है, जिसमें सभी सो रहे थे। मंगलवार तड़के राम सहाय के सीने में सटाकर गोली मार दी गई। गोली सुराग करते हुए पीठ के पार हो गई। उसकी मौके पर ही मौत हो गई। 

गोली की आवाज पर साथ लेटे दोनों साझीदारों ने शोर मचाया। ग्रामीणों के साथ परिजन मौके पर पहुंचे और पुलिस को घटना की सूचना दी। रामसहाय के भाई गंगाराम ने गांव के मल्लाह सोनेलाल, राजेपाल, ओम प्रकाश और शिवपाल के खिलाफ पुलिस को तहरीर दी। पुलिस ने तहरीर के आधार पर चारों के खिलाफ हत्या व एससीएसटी ऐक्ट के तहत रिपोर्ट दर्ज पर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस दोनों साझीदारों समेत आधा दर्जन लोगों को हिरासत में लिया है। रामसहाय पर कोतवाली सफीपुर में कई अपराधिक मामले दर्ज थे।

बच्चों के सिर से मां के बाद पिता का साया भी उठा
राम सहाय चार भाइयों में तीसरे नंबर पर था। पत्नी नन्हकी की पांच साल पहले बीमारी से मौत हो चुकी है। एक बारह वर्षीय बेटी नीलू और बेटों में दिलीप (10), विवेक (8) व  यश (6) हैं। पिता की मौत पर बच्चों का रो-रोकर बुरा हाल था। रामसहाय की मौत होने से बच्चों के सिर से पिता का साया छीन गया है।

कई अपराधिक मामले थे दर्ज
राम सहाय अपराधिक किस्म का युवक था। उसके खिलाफ कई संगीन मामले कोतवाली में दर्ज हैं। एक माह पहले धंकू पुरवा के पास गंगा में अवैध रूप से बालू खनन करा रहा था। ग्रामीणों की सूचना पर पुलिस पहुंची थी और अवैध खनन का मामला दर्ज किया था। पुलिस उसकी तलाश कर रही थी। मगर वह पुलिस को चकमा देकर भाग निकला था।

सालों से रेती पर चल रही थी कब्जेदारी
सफीपुर क्षेत्र का अल्लीपुर गांव गंगा किनारे बसा है। गंगा के एक बड़े हिस्से पर अवैध कब्जेदारी का खेल सालों से चल रहा है। नवंबर 2017 में गंगा रेती पर कब्जेदारी को लेकर चौबेपुर के भूमाफियाओं ने दिनदहाड़े कई राउंड हवाई फायरिंग कर दहशत फैलाई थी। तब अल्लीपुर के ग्रामीण एकत्र हुए तो कानपुर के माफिया नाव से पार निकल गए थे, जिसमें पुलिस ने केस दर्ज किया था।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:history-sheeter shot dead in Unnao Uttar Pradesh