DA Image
5 मार्च, 2021|5:02|IST

अगली स्टोरी

मिसाल: कुलदीप ने खून देकर बचाई फरजाना की जान, हो रही सराहना

shahjahanpur up

दिल्ली में लोग इंसानियत के दुश्मन बने हुए हैं। हिन्दू-मुस्लिम एक-दूसरे के खून के प्यासे हो रहे हैं। ऐसे में शाहजहांपुर के कुलदीप सिंह से दिल्ली वालों को सीखने की जरूरत है। कुलदीप सिंह वह शख्स हैं, जो सोशल मीडिया के जरिए सूचना मिलते ही मेडिकल कॉलेज में भर्ती फरजाना बेगम को खून देने दौड़े पहुंच गए। फरजाना बेगम की रगोें में अब कुलदीप सिंह का लहू दौड़ रहा है। कुलदीप के खून देने से ही फरजाना की जान बच सकी। 

शाहजहांपुर का एक ग्रुप इब्तिदा हे। फेसबुक पर यह शाहजहांपुर एक्सप्रेस के नाम से जाना जाता है। ग्रुप को फाजिल, ऐजान खां संचालित करते हैं। यह ग्रुप जरूरतमंदों की मदद करता है। बुधवार को मेडिकल कॉलेज में भर्तीं फरजाना बेगम को ओ पॉज़िटिव खून की जरूरत पड़ी। ब्लड बैंक में भी इस ग्रुप का रक्त नही था। लिहाजा ग्रुप पर अपील की गई। अपील देखते ही शहर के कच्चा कटरा निवासी कुलदीप सिंह मेडिकल कालेज पहुंच गए। कुलदीप सिंह ने फरजाना बेगम को ब्लड देकर जान बचाई।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Hindu Youth Give Blood To Muslim Woman To Save Her Life In Shahjahanpur UP