ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेशहिन्दू समाज पार्टी के अध्यक्ष कमलेश तिवारी के हत्यारे सीसीटीवी फुटेज में कैद

हिन्दू समाज पार्टी के अध्यक्ष कमलेश तिवारी के हत्यारे सीसीटीवी फुटेज में कैद

लखनऊ में शुक्रवार दोपहर हिन्दू समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष कमलेश तिवारी  की उनके घर में ही गला रेत कर हत्या कर दी गई। हत्यारे भगवा कुर्ता पहने थे और मिठाई के डिब्बे में तमंचा व चाकू...

हिन्दू समाज पार्टी के अध्यक्ष कमलेश तिवारी के हत्यारे सीसीटीवी फुटेज में कैद
Amitलाइव हिन्दुस्तान टीम,लखनऊ Fri, 18 Oct 2019 09:57 PM
ऐप पर पढ़ें

लखनऊ में शुक्रवार दोपहर हिन्दू समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष कमलेश तिवारी  की उनके घर में ही गला रेत कर हत्या कर दी गई। हत्यारे भगवा कुर्ता पहने थे और मिठाई के डिब्बे में तमंचा व चाकू लेकर आये थे। मोबाइल पर बात करने के बाद परिचित बनकर घर पहुंचे दो हत्यारों ने पहले कमरे में कमलेश से करीब आधे घंटे तक बातचीत की। फिर उन पर चाकू से ताबड़तोड़ हमला कर दिया। हमले से चंद मिनट पहले पान मसाला लेने गया उसका बेटा जब लौटा तो कमलेश खून से लथपथ मिले।
पड़ोसियों की मदद से कमलेश को अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।  सीसी फुटेज में दोनों हत्यारों की तस्वीर मिल गई है। इस फुटेज के आधार पर ही हत्यारों की तलाश की जा रही है। घर वालों ने बताया कि हत्यारों ने गोली चलायी थी। हालांकि कमलेश के शरीर पर गोली के कोई निशान नहीं मिले है। पुलिस ने कहा कि मौके पर एक तमंचा मिला था। गोली लगी की नहीं यह बात पोस्टमार्टम रिपोर्ट में साफ हो जायेगी। उधर डीएम ने कहा है कि हत्यारों का पता लगने के बाद उनके खिलाफ रासुका के तहत कार्रवाई की जायेगी।


चाय पी, फिर गोली चलाई
खुर्शेदबाग में दो मंजिला मकान में कमलेश तिवारी अपनी पत्नी किरन, दो बेटे रिषी व मृदुल के साथ रहते हैं जबकि बड़ा बेटा सत्यम पैतृक गांव महमूदाबाद में रहता है। किरन के मुताबिक दो लोग पति को फोन कर घर पर मिलने आए थे। कमलेश ने इन दोनों को ऊपर कमरे में बुला लिया और चाय बनाने को कहा था। बातचीत के दौरान ही कमलेश ने बेटे मृदुल को नौकर के साथ पान मसाला लेने के लिये नीचे भेज दिया था। किरन ने बताया कि जब बेटा लौटा तो देखा कि कमलेश खून से लथपथ नीचे पड़े हैं। फिर ड्राइवर ने उन्हें इस घटना के बारे में बताया। वह कमरे में पहुंची तो सब देखकर बदहवाश हो गई। उनका शोर सुनकर आस पास के लोग वहां पहुंच गए।
कमलेश तिवारी की हत्या के बाद एडीजी, आईजी और एसएसपी समेत कई अधिकारी मौके पर पहुंच गए। इस बीच आस पास के कैमरों की फुटेज खंगाली जाने लगी। इस दौरान ही एक कैमरे की फुटेज में दो हत्यारे दिख गए। इन लोगों ने भगवा और लाल रंग का कुर्ता पहन रखा था। इसमें ये लोग मुख्य सड़क की ओर से आते दिख रहे हैं।
धार्मिक टिप्पणी पर लगा था रासुका
एक सम्प्रदाय पर टिप्पणी करने के मामले में वर्ष 2015 में कमलेश को गिरफ्तार किया गया था तब कमलेश के खिलाफ रासुका के तहत भी कार्रवाई हुई थी।

epaper