अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पत्नी को जिंदा जलाने वाले पति को कोर्ट ने सुनाई मौत की सजा

Demo Pic

उत्तर प्रदेश में जौनपुर की एक अदालत ने दहेज के लिए पत्नी को जिंदा जलाकर मारने के आरोप में पति को फांसी की सजा और बीस हज़ार रुपये के जुमार्ने की सजा सुनाई है। अभियोजन पक्ष के अनुसार जिले के बख्शा थाने में मृतका के भाई निवासी ग्राम बथुआवर थाना सिकरारा जौनपुर समरजीत ने रिपोर्ट दर्ज कराई की दहेज में मोटरसाइकिल की मांग को लेकर मेरी बहन सुषमा को उसके पति मनोज कुमार निवासी ग्राम सरौली ने 26 सितंबर 2012 की रात जिंदा जलाकर कर मार डाला। 

भाई ने बताया कि उसकी बहन की शादी 10 मई 2002 को हुई थी, उसके दो बेटियां हैं। पत्रावली पर उपलब्ध सबूत एवं साक्ष्यों के आधार पर अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश/स्पेशल जज ई सी एक्ट मनोज कुमार सिंह गौतम ने पत्नी को जिंदा जलाकर कर मार डालने का दोषी मानते हुए आरोपी पति मनोज कुमार को फांसी की सजा और बीस हज़ार रुपये के जुमार्ने की सजा सुनाई है। अदालत ने जुमार्ने की आधी राशि मृतका की बड़ी पुत्री को देने का आदेश दिया है।

हैवानियत: लड़की से रेप के बाद की गई ऐसी बर्बरता, पढ़कर कांप जाएगी रूह

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:HC declare death sentence to the Husband who Burned his wife