DA Image
20 नवंबर, 2020|8:00|IST

अगली स्टोरी

हाथरस गैंगरेप केस : घटनास्थल पर सबसे पहले पहुंचने वाला छोटू नार्को टेस्ट को तैयार, CBI कर चुकी है कई बार पूछताछ

यूपी के हाथरस में युवती के साथ कथित गैंगरेप के मामले में घटनास्थल पर सबसे पहले पहुंचने का दावा करने वालाा युवक नार्को और पॉलीग्राफ टेस्ट के लिए तैयार है। उसका कहना है कि सच सामने लाने के लिए वह टेस्ट के लिए तैयार है, साथ ही पीड़िता के परिजनों का भी टेस्ट होना चाहिए। उधर, युवक की मां ने टेस्ट पर आपत्ति जताते हुए बेटे को नाबालिग बताया।

चंदपा क्षेत्र के गांव बूलगढ़ी में युवती के साथ हुई घटना के खुलासे के लिए सीबीआई जांच में जुटी है। घटना के वक्त पास के ही खेत में काम कर रहे एक युवक छोटू ने घटना स्थल पर सबसे पहले पहुंचने का दावा किया था। इसका घर पीड़िता के घर से थोड़ी दूरी पर ही है। यही युवक घटना के तुंरत बाद पीड़िता के भाई को बुलाने के  लिए उसके घर आया था। सीबीआई छोटू से कई बार पूछताछ कर चुकी है। युवक के अनुसार सीबीआई उससे 20 से अधिक बार पूछताछ कर चुकी है। युवक ने शुक्रवार को मीडिया से बातचीत के दौरान बताया कि सीबीआई  ने गुरुवार को उसका कोविड 19 का टेस्ट कराया, जो निगेटिव आया है।

सीबीआई उसका नार्को-पॉलीग्राफ कराने की बात कर रही है। वह नार्को टेस्ट के लिए तैयार है। वह सीबीआई की बहुत इज्जत करता है। सच सामने आना चाहिए। उसने कहा कि पीड़ित परिवार के सदस्यों का भी टेस्ट होना चाहिए। उधर, युवक की मां ने टेस्ट कराने से इनकार किया। मां का कहना है कि वह अभी नाबालिग है। पीड़िता के परिवार और अन्य लोगों का भी टेस्ट होना चाहिए। उसका बेटा अभी बच्चा है। बेटे ने मौके पर जो देखा वह कई बार चुका है। दिन में तीन-तीन बार पूछताछ की जा चुकी है। वहीं, इस युवक के बड़े भाई ने दावा किया कि युवक अभी 18 साल का नहीं हुआ है। हाईस्कूल की मार्कशीट के अनुसार नाबालिग है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Hathras gangrape case Chhotu Narco test will be held who arrives at the scene CBI has been questioned many times