DA Image
21 अक्तूबर, 2020|4:50|IST

अगली स्टोरी

हाथरस गैंगरेप केस: पीड़िता के घर जाने से रोकने पर सपाई भड़के, हंगामा, थाने में तोड़फोड़

हाथरस की गैंगरेप पीड़िता के घर जा रहे सपाई रास्‍ते में पुलिस द्वारा रोके जाने पर भड़क गए। उन्‍होंने थाने पर जमकर हंगामा किया और तोड़फोड़ की। हाथरस गैंगरेप कांड पर गर्माई सियासत के बीच पुलिस ने पीड़िता के गांव बुलगढ़ी को छावनी में तब्‍दील कर दिया है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के भी बुलगढ़ी जाने की खबरें हैं।

प्रशासन ने कानून-व्‍यवस्‍था का हवाला देते हुए नेताओं को हाथरस या बुलगढ़ी जाने से रोकने का पूरा इंतजाम किया है। इस बीच गुरुवार की सुबह समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता अलीगढ़ से हाथरस के बुलगढ़ी की ओर जा रहे थे। हाथरस के कोतवाली सासनी क्षेत्र में पुलिस ने उन्‍हें रोक दिया। इससे भड़के सपा कार्यकर्ताओं ने जमकर हंगामा किया। थाने पर तोड़फोड़ भी की। सपाइयों ने पुलिस पर गैंगरेप केस में सच्‍चाई दबाने के लिए दमनकारी रवैया अपनाने का आरोप लगाया है। 

हाथरस की सीमाएंं सील, भारी पुलिस बल तैनात

जिले की सीमाएं सील कर दी गईं और दिल्ली-नोएडा-दिल्ली (डीएनडी) फ्लाईओवर पर भारी पुलिस बल तैनात हो गई है।हाथरस के डीएम प्रवीण कुमार लक्षकार ने बताया कि जिले की सारी सीमाएं सील कर दी गई हैं। साथ ही पूरे जिले में सीआरपीसी की धारा 144 लागू कर दी गई है, जिसके तहत पांच से अधिक लोगों को एक जगह इकट्ठा होने की अनुमति नहीं है। उन्होंने बताया कि हमें प्रियंका गांधी की आने की कोई जानकारी नहीं है।एसआईटी आज पीड़ित परिवार के सदस्यों से मुलाकात करेगी, मीडिया को अनुमति नहीं दी जाएगी।

बता दें कि गैंगरेप और बर्बरता का शिकार हुई 20 साल की पीड़िता की मंगलवार को इलाज के दौरान मौत हो गई। इसके बाद यूपी पुलिस ने मंगलवार देर रात के अंधेरे में परिवार की मौजूदगी के बिना पीड़िता का अंतिम संस्कार किए जाने पर पूरे देश में आक्रोश फैला हुआ है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:hathras gang rape case samajwadi party workers protest sabotage at police station