DA Image
29 अक्तूबर, 2020|9:12|IST

अगली स्टोरी

हाथरस परिजनों का दर्द : लगी रहती थी नेताओं की लाइनें, लौटेने के बाद किसी ने नहीं किया फोन न पूछा हालचाल

hathras case latest updates family pain big political leaders lie rahul gandi priyanka gandi came an

हाथरस मामले की पीड़िता के परिवार को इस बात का भी दुख है कि पिछले एक माह से उनके यहां घर पर आने वालों की लाइन लगी थी, लेकिन यहां से जाने के बाद फोन पर किसी ने हाल नहीं जाना। पीड़िता के पिता व छोटे भाई ने रविवार को हुई बातचीत के दौरान कहा कि उनके पास किसी का फोन नहीं आया।

राहुल , प्रियंका गांधी से लेकर दिग्गज वामपंथी नेताओं के साथ ही कई राजनीतिक दल के बड़े नेताओं का बूलगढ़ी में आगमन हुआ। परिवार का दुख दर्द बांटने आए। यहां आकर यह भी भरोसा दिया कि कभी भी मदद की जरूरत हो तो बताएं, लेकिन हकीकत ये है कि इस परिवार की सुधि इन लोगों ने नहीं लगी। रविवार की सुबह पीड़िता के पिता व छोटे भाई से जब इस बारे में बात की गई तो उन्होंने स्पष्ट इनकार किया किसी का हाल चाल लेने को फोन नहीं आया। उनसे जब पूछा गया कि राहुल गांधी का कोई फोन आया, तो भाई ने इंकार किया।  

पीड़ित परिवार बोला, कौन संजय सिंह, किस चाचा से बात हुई पता नहीं

आप सांसद संजय सिंह द्वारा पीड़िता के परिवार को दिल्ली स्थित अपने घर में रखने की पेशकश के मामले में नया मोड़ आ गया है। दरअसल, संजय सिंह ने शनिवार को ट्वीट किया था कि उन्होंने पीड़िता के चाचा से बात की है, लेकिन जब इस मामले में रविवार को पीड़ता के पिता से बात की गई तो उन्होंने आश्चर्य जताया और संजय सिंह को नहीं पहचान सके। जब उन्हें बताया गया कि उनके ऊपर यहां स्याही फेंकी गई थी तो उन्हें पहचाना। वहीं पीड़िता के पिता और भाई ने आश्चर्य जताया कि आखिर किस चाचा से संजय सिंह ने बात की। वहीं पीड़िता के भाई ने चाचा शब्द पर भी चौंक उठे। उन्हें खुद पता नहीं की किस चाचा से बात की हैं। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Hathras case latest updates family pain big political leaders lie rahul gandi priyanka gandi came and returned no one asked the phone nor did the situation