DA Image
29 अक्तूबर, 2020|12:21|IST

अगली स्टोरी

हाथरस केस: अभी लिफाफे में ही बंद है राहुल गांधी का दिया चेक, जानिए पीड़ित परिवार ने क्यों नहीं जमा किया बैंक में

rahul gandhi said - family wants hathras ias dm suspend by yogi government as like ips punishment

हाथरस में कथित गैंगरेप के पीड़ित परिवार को कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने आर्थिक मदद के लिए जो चेक दिया था, वह अभी तक लिफाफे में बंद है। उसे खाते में जमा नहीं कराया गया है। पीड़ित परिवार ने इस बारे में जानकारी मीडिया को दी ।

चंदपा कोतवाली क्षेत्र के गांव बूलगढ़ी में पीड़ित परिवार से मिलने बीती चार अक्तूबर को कांग्रेस नेता राहुल व उनकी बहन प्रियंका गांधी आए थे। उनके साथ कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी भी थे। इस दौरान करीब 50 मिनट दोनों नेताओं ने बंद कमरे में परिवारवालों से बात की थी। राहुल व प्रियंका ने जमीन पर बैठकर परिवार से दर्द साझा किया था। राहुल गांधी ने पीड़िता की फोटो भी देखने की इच्छा जाहिर की थी। इस पर पीड़िता के भाई ने मोबाइल फोन में बहन की तस्वीर दिखाई थी। राहुल गांधी के हाथ में एक सफेद रंग का लिफाफा लगा हुआ था। कुछ देर बाद उन्होंने पीड़िता के पिता को यह लिफाफा दे दिया था। राहुल प्रियंका ने इस लिफाफे के बारे में कोई जानकारी नहीं दी थी। उनके जाने के बाद पीड़िता के भाई ने सिर्फ लिफाफे की जानकारी दी थी। कुछ देर बाद परिवार की ओर से बताया गया कि लिफाफे में कांग्रेस की ओर से चेक दिया गया है। हालांकि उस समय भी परिवार ने धनराशि की जानकारी नहीं दी। अब भी परिवार धनराशि के बारे में नहीं बता रहा। हालांकि उस समय प्रमुख कांग्रेस नेताओं का कहना था कि दस लाख रुपये का चेक दिया गया है।

शनिवार को पीड़ित परिवार ने बताया कि चेक अभी उसी लिफाफे में बंद है। बैंक खाते में जमा नहीं किया है। पीड़िता के भाई ने बताया कि उनके परिवार के सदस्यों के जनधन खाते हैं। यदि कांग्रेस के चेक को खाते में जमा करते हैं तो इतनी बड़ी रकम निकालेंगे कैसे। यही विचार करते हुए परिवार एक और बैंक खाता खुलवाने का विचार कर रहा है। 

कांग्रेस के एससीएसटी विभाग के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष ने की मुलाकात 
कांग्रेस के एससीएसटी विभाग के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रामय्या वाल्मीकि शनिवार को बूलगढ़ी पहुंचे। यहां पीड़ित परिवार से उन्होंने मुलाकात की। पीड़ित परिवार के साथ कांग्रेस के होने का भरोसा दिया कर्नाटक से यहां आए रामय्या ने घटना के बारे में जानकारी हासिल की। उन्हें परिजनों ने बताया कि कांग्रेस नेता राहुल व प्रियंका गांधी भी घर आ चुके हैं। रामय्या वाल्मीकि ने अभी तक यूपी सरकार, पुलिस, सीबीआई, एसआईटी आदि की कार्य प्रगति के बारे में जानकारी ली। पीड़िता के पिता ने एक बार फिर दोहराया कि उनकी बेटी के शव को रात में प्रशासन ने जलवा दिया। रामय्या वाल्मीकि के साथ कांग्रेस के विधि प्रकोष्ठ के प्रदेश सचिव जितेन्द्र गौतम एडवोकेट, अलीगढ़ के युवक कांग्रेस अध्यक्ष अमित उपाध्याय, अलीगढ़ की महिला कांग्रेस नेत्री अनीता करौतिया, अलीगढ़ के शहर कांग्रेस के सचिव दिलीप शेखर भी थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Hathras case congress leader Rahul Gandhi check did not deposit the victim family in the bank yet