Hanuman Chalisa recited on UP road by hindu yuva vahini people know why - UP: लोगों ने सड़क पर बैठकर किया 'हनुमान चालीसा' का पाठ, जानें क्यों? DA Image
17 नबम्बर, 2019|3:44|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

UP: लोगों ने सड़क पर बैठकर किया 'हनुमान चालीसा' का पाठ, जानें क्यों?

hanuman chalisa recited on up road

पुलिस-प्रशासन की रोक के बावजूद मंगलवार को शाम हिन्दूवादी संगठनों के कार्यकर्ताओं ने हाथरस के तिराहा बाजार स्थित हनुमान मंदिर पर सड़क पर बैठकर हनुमान चालीसा का पाठ किया। शाम पांच बजे साउंड लगाकर भजन-कीर्तन किए।

एक सप्ताह पूर्व एक युवक ने सोशल मीडिया पर पोस्ट डाली थी इसमें मंगलवार 16 जुलाई को तिराहा बाजार स्थित सेठ गंगा शरन के हनुमान मंदिर पर हनुमान चालीसा व महाआरती का ऐलान किया था। प्रशासन को पता चला तो वह प्रथम बार होने वाले इस तरह के आयोजन की अनुमति नहीं देने पर अड़ गया। कार्यक्रम आयोजक कृष्णा यादव को अनुमति नहीं दी गई। इसके बाद हिन्दूवादी संगठनों व कुछ भाजपाइयों ने कार्यक्रम को अपनी प्रतिष्ठा से जोड़ लिया और हर कीमत पर आयोजन पर अड़ गए। कोतवाली पर भी एक बार स्थानीय प्रशासन ने योजकों को बुलाकर वार्ता की और आयोजन नहीं करने की अपील की थी।

मंगलवार की शाम को तिराहा बाजार स्थित हनुमान मंदिर पर पांच बजे हिंदूवादी संगठनों के लोग एकत्रित हो गए और हनुमान चालीसा का पाठ किया। लगभग एक घंटा तक चले आयोजन में युवा खासे जोश व उत्साह में नजर आए। ढोलक व मजीरों पर भजन गाए। इस दौरान युवाओं ने भारत माता की जय, वंदे मातरम, जय श्रीराम के नारे लगाए। आयोजन के बाद पुलिस व प्रशासन पूरी तरह सतर्क नजर आया। कस्बा में पुलिस और पीएसी ने गश्त की। कोतवाली प्रभारी डीके सिसोदिया के अनुसार हिन्दूवादियों के आयोजन में 50 युवक शामिल हुए। हनुमान चालीसा का पाठ किया। नगर में पूरी तरह से शांति रही और आयोजन भी शांतिपूर्ण रहा।

मामला मेरी जानकारी में नहीं है। कल एसडीएम ने बताया कि एक व्यक्ति अनुमति लेने के आया था, लेकिन उसे कोई अनुमति नहीं दी है। थाने में भी वह व्यक्ति यहीं कहकर गया था कि वह ऐसा कुछ नहीं करेगा, अगर उसने बिना अनुमति के कुछ किया है तो जरुर उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। प्रवीन कुमार लक्षकार, डीएम, हाथरस 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Hanuman Chalisa recited on UP road by hindu yuva vahini people know why