ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशशादी से ठीक पहले दूल्हे ने बारात लाने से किया इनकार, गांव के ही दूसरे युवक ने दुल्हन के साथ ले लिए सात फेरे, जानें पूरा मामला

शादी से ठीक पहले दूल्हे ने बारात लाने से किया इनकार, गांव के ही दूसरे युवक ने दुल्हन के साथ ले लिए सात फेरे, जानें पूरा मामला

देवरिया में शादी के दिन दूल्हे ने बारात ले जाने से ही मना कर दिया। काफी मान-मनौव्वल के बाद भी जब मामला नहीं निपटा तो गांव के ही लोगों ने दूसरे युवक से युवती की शादी रचा दी।

शादी से ठीक पहले दूल्हे ने बारात लाने से किया इनकार, गांव के ही दूसरे युवक ने दुल्हन के साथ ले लिए सात फेरे, जानें पूरा मामला
Pawan Kumar Sharmaहिन्दुस्तान,देवरियाSun, 26 May 2024 03:12 PM
ऐप पर पढ़ें

यूपी के देवरिया से एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। जहां लार रोड थाना क्षेत्र के एक गांव के युवक की शादी कोतवाली सलेमपुर के एक गांव में 24 मई को होनी थी। लेकिन शादी के दिन दूल्हे ने बारात ले जाने से ही मना कर दिया। काफी मान-मनौव्वल के बाद भी जब मामला नहीं निपटा तो गांव के ही लोगों ने दूसरे युवक से युवती की शादी रचा दी। वहीं, ये घटना क्षेत्र में चर्चा का  विषय बना हुआ है। 

लार थाना क्षेत्र के एक गांव के युवक की शादी कोतवाली सलेमपुर थाना क्षेत्र के एक गांव में तय था। 20 अप्रैल को तिलक और 24 मई को शादी होना था। 20 अप्रैल को तिलक का कार्यक्रम सकुशल संपन्न हुआ था। 24 मई को बारात कोतवाली थाना क्षेत्र के एक गांव में जानी थी। लेकिन ऐन मौके पर दूल्हे ने मूड बदलते हुए बारात ले जाने से इनकार कर दिया। उधर, इस मामले की जानकारी लड़की पक्ष को हुई तो उनके पैरों तले जमीन खिसक गई। आनन-फानन में लड़की पक्ष लड़के के घर पहुंच गए और बवाल करने लगे। ग्राम प्रधान प्रतिनिधि और ग्रामीणों के हस्तक्षेप के बाद मामला शांत हुआ। लेकिन वर पक्ष अपनी बातों पर डटा रहा और बारात ले जाने से इनकार कर दिया। जिसके बाद ग्रामीण और प्रधान प्रतिनिधि गांव के ही दूसरे युवक से शादी करने की बात लड़की पक्ष के सामने रखा। 

घंटों पंचायत के बाद गांव के ही एक व्यक्ति ने अपने लड़के की शादी तय तिथि 24 मई को ही बारात ले जाने को तैयार हुए। बताते हैं कि जिस पर ग्रामीणों ने सहयोग कर बारात लेकर लड़की के घर कोतवाली सलेमपुर थाना क्षेत्र के एक गांव पहुंचे। जहां शादी की रस्म पूरी कराई गई। हिंदू रीति रिवाज के अनुसार लड़की का गवना 27 मई दिन सोमवार को तय किया गया है।