DA Image
22 अक्तूबर, 2020|7:03|IST

अगली स्टोरी

शिक्षिका हत्‍याकांड: शूटर की पहचान के लिए 747 लुटेरों का डोजियर खंगालेगी क्राइम ब्रांच

शिक्षिका डेविना मेजर हत्याकांड की गुत्थी सुलझाने के लिए अब पुलिस ने सिर्फ लूट और रंजिश पर ही तफ्तीश आगे बढ़ाने का निर्णय लिया है। रंजिश के प्रत्येक एंगल की जांच जारी है वहीं अब जिले के सभी लुटेरों का डोजियर भी पुलिस ने खंगालना शुरू कर दिया है। जिले में लूट और चेन स्नेचिंग की वारदात से जुड़े 747 लुटेरों का डोजियर बनाया गया है। सभी की फोटो से शूटरों की फोटो की मिलान कराई जा रही है।

शिक्षिका हत्याकांड को लेकर एक सप्ताह बाद पुलिस ने शूटरों की तस्वीर जारी कर दी है। हालांकि तस्वीर जारी करने के तीन दिन बाद भी पुलिस कोई सुराग नहीं हासिल कर सकी है। पुलिस ने अपने मुखबिरों के अलावा जेल में बंद बदमाशों और लुटेरों को भी तस्वीर दिखाकर पहचान कराने की कोशिश की है। किसी ने भी तस्वीर की पहचान नहीं की। पुलिस अब तक के सारे लुटेरों की तस्वीर से शूटरों की तस्वीर की मिलाने कराने जा रही है। आस-पास के जिलों में भी फोटो भेजा गया है। 

सोशल मीडिया पर पिछले तीन दिनों से फोटो वायरल किया जा रहा है जिससे कहीं से भी कोई व्यक्ति फोन करके पुलिस को बताए और 25 हजार रुपये का इनाम हासिल करे, लेकिन कहीं से कोई सूचना न आने से पुलिसकर्मी निराश हैं। दूसरी तरफ प्रॉपर्टी से जुड़े रंजिश के एंगिल को भी पुलिस ने जांच में रखा है। प्रॉपर्टी से जुड़े तीन विवाद सामने आए हैं। वहीं पैसे के लेनदेन को लेकर भी कई विवाद सामने आए हैं पुलिस इन सभी पर नजर रखे हुए है।

20 सितम्बर को हुई थी शिक्षिका डेविना की हत्या
बशारतपुर की रहने वाली शिक्षिका डेविना मेजर की हत्या 20 सितम्बर को उस वक्त हुई थी जब वह अपनी बेटी के साथ स्कूटी से मायके से घर लौट रही थी। रास्ते में सुड़िया कुंआ के पास बाइक सवार बदमाशों ने मां-बेटी को गोली मारी दी थी। शिक्षिका की मौके पर ही मौत हो गई जबकि उसकी बेटी का लखनऊ में इलाज चल रहा है अब वह खतरे से बाहर है। करीब दस दिन बाद भी हत्यारों को पकड़ना तो दूर पुलिस शूटर की न तो पहचान कर पाई है और न ही हत्या की वजह ही सामने आ पाई है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Gorakhpur police crime branch will search dozier of 747 looters in gorakhpur