ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशरोते हुए फांसी के फंदे पर झूल गया सर्राफा कारोबारी, बेडरूम में लगे CCTV में रिकॉर्ड हुई घटना

रोते हुए फांसी के फंदे पर झूल गया सर्राफा कारोबारी, बेडरूम में लगे CCTV में रिकॉर्ड हुई घटना

कानपुर में एक सर्राफा कारोबारी ने अपने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। वहीं, ये पूरी घटनाक्रम बेडरूम में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई। सुसाइड से पहले ज्वैलर्स फंदा पकड़कर फूट-फूटकर रोया था।

रोते हुए फांसी के फंदे पर झूल गया सर्राफा कारोबारी, बेडरूम में लगे CCTV में रिकॉर्ड हुई घटना
two girl students committed suicide after failing in madya pradesh board exam results
Pawan Kumar Sharmaहिन्दुस्तान,कानपुरThu, 13 Jun 2024 03:55 PM
ऐप पर पढ़ें

यूपी के कानपुर से एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। जहां एक सर्राफा कारोबारी ने मंगलवार रात घर पर फांसी लगाकर जान दे दी। पूरी घटना बेडरूम में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई। फांसी लगाने से पहले ज्वैलर्स फंदा पकड़कर फूट-फूटकर रोया फिर लटक गया। सुबह जब सर्राफ का बेटा कमरे में गया तब उसने पिता का शव लटकते देखा। सूचना पर पहुंची कलक्टरगंज पुलिस और फोरेंसिक टीम ने पड़ताल कर शव पोस्टमार्टम को भेजा। परिजन आत्महत्या कारण नहीं बता सके।

बिरहाना रोड के रहने वाले 40 साल के कारोबारी आनंद सिंह उर्फ शेर सिंह की घर के नीचे ही गोकुल ज्वैलर्स और दीप ज्वैलर्स के नाम से दुकान है। घर के तीसरे माले पर उन्होंने कमरे में देर रात फांसी लगा ली। आनंद के परिवार में पत्नी प्रीति, बेटा राजवीर और बेटी ऐश्वर्या हैं। पत्नी बेटी को लेकर मायके गई हुई है। प्रथम तल पर मां मंजू पिता दीपक सिंह रहते हैं। दूसरे तल में रहने वाले छोटे भाई अमन सिंह ने बताया कि रात में सभी ने साथ खाना खाया। इसके बाद भइया आनंद सोने चले गए। बेटा राजवीर दूसरे कमरे में था। अमन ने बताया कि भतीजे राजवीर ने सुबह सवा आठ बजे पिता का शव फंदे से लटकता पाया । ज्वैलर्स एसोसिएशन के पदाधिकारी और बाद में मेयर प्रमिला पाण्डेय भी सर्राफ के यहां पहुंचीं और ढांढस बंधाया। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराने के बाद परिवार के सुपुर्द कर दिया।

डीसीपी ईस्ट श्रवण कुमार सिंह ने बताया कि वहां पर परिवार वाले आत्महत्या के कारण की जानकारी नहीं दे सक लेकिन पुलिस को सूचना मिली है कि उनका कुछ घरेलू कलह चल रहा था। वहीं, यूपी ज्वैलर्स एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष मुकुल वर्मा ने बताया कि आनंद ने फांसी क्यों लगाई इसके बारे में कोई जानकारी नहीं मिल सकी है। वह बेटे के साथ घर पर अकेले थे। दोनों भाइयों में काफी एका है। पता नहीं ऐसा उन्होंने क्यों किया।

बेडरूम में क्यों था कैमरा

आनंद के बेडरूम में भी कैमरा लगा था। इसकी खासी चर्चा रही कि बेडरूम में क्यों कैमरा लगा था। सोशल मीडिया पर पहला वीडियो 3:43 मिनट का वायरल हुआ जो रात 1:11 से 1:15 बजे का है। इस वीडियो में आनंद सिंह पलंग के पास आते हैं और पंखा बंद कर उसमें दुप्पट्टे का फंदा बनाते हैं। इसके बाद वह लटकने का प्रयास करते हैं मगर लटक नहीं पाते। वह फिर फंदा गले से उतारते हैं और उसे ठीक करने में लग जाते हैं। इस दौरान उनके पैर भी लड़खड़ाते हैं।