ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशनिर्माणधीन न्यायालय परिसर के बोरवेल में गिरा बकरी का बच्चा, 7 दिन बाद अब निकालने में जुटा प्रशासन, देर रात तक चली खुदाई

निर्माणधीन न्यायालय परिसर के बोरवेल में गिरा बकरी का बच्चा, 7 दिन बाद अब निकालने में जुटा प्रशासन, देर रात तक चली खुदाई

हाथरस में निर्माणधीन न्यायालय की भूमि में 7 दिन पहले एक बकरी का बच्चा गिर गया। तब प्रशासन ने पीड़ित की बातों को अनसुना कर दिया था लेकिन मामला सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद प्रशासन सक्रिय हो गया है।

निर्माणधीन न्यायालय परिसर के बोरवेल में गिरा बकरी का बच्चा, 7 दिन बाद अब निकालने में जुटा प्रशासन, देर रात तक चली खुदाई
Pawan Kumar Sharmaहिन्दुस्तान,हाथरसTue, 05 Dec 2023 10:04 PM
ऐप पर पढ़ें

यूपी के हाथरस में एक निर्माणाधीन न्यायालय परिसर की भूमि में खुले पड़े बोरवेल में सात दिन पहले एक बकरी का बच्चा गिर गया था। तब प्रशासन ने पीड़ित की गुहार को नजर अंदाज कर दिया था लेकिन जब सोशल मीडिया पर मामला वायरल हुआ तो मंगलवार को सरकारी अमला अलर्ट हो गया और मौके पर पहुंच गया। बकरी के बच्चे को बाहर निकालने के लिए रेस्क्यू शुरू कर दिया। शाम सात बजे तक जेसीबी की मदद से बोरवेल के निकट खुदाई का काम चलता रहा। 

गांव नगला हीरा सिंह निवासी दिनेश की बहन बीते मंगलवार को दो बकरी और चार बकरी के बच्चों को लेकर चारागाह में लेकर गई थी। इस दौरान एक बकरी का बच्चा निर्माणाधीन न्यायालय पिरसर में खुले पड़े बोरवेल में गिर गया। दिनेश की मानें तो उसने जिला प्रशासन को अवगत कराया कि उसकी बकरी का बच्चा बोरेवेल में गिर गया है। लेकिन प्रशासन ने उसकी बात को अनसुना कर दिया। मंगलवार को मामला सोशल मीडिया पर वायरल हुआ तो वन विभाग के अधिकारी और जिला प्रशासन अलर्ट हो गया। सूचना पर पहुंची वन विभाग की टीम ने बोरवेल से बकरी के बच्चे को निकालने का काम शुरू कर दिया। जेसीबी से बोरवेल के पास खुदाई की जा रही है। हालांकि देर शाम तक सफलता हाथ नहीं लगी। रात में भी रेस्क्यू का काम जारी रहा।

बोरवेल में सात दिन से नीम के पत्ते डाल रहा दिनेश

पीड़ित दिनेश ने बताया कि बोरवेल में बकरी का बच्चा गिरने के बाद उसे निकालने के लिए जिला प्रशासन से गुहार लगाई। लेकिन जिला प्रशासन की ओर से कोई एक्शन नहीं लिया गया। दिनेश ने बताया कि लगातार सात दिन से वह बोरवेल में नीम की हरी पत्तियां डाल रहा है, ताकि बकरी के बच्चे को चारा मिल सके। दिनेश ने बकरी का बच्चा जिंदा निकलने की उम्मीद जताई है। 

इस मामले में तहसीलदार चंद्रप्रकाश ने बताया कि जैसे ही बोरेवल में बकरी के बच्चे के गिरने की जानकारी मिली तो तुरन्त प्रशासन के साथ-साथ वन विभाग की टीम रेस्क्यू कार्य में जुट गई है। अभी बकरी के बच्चे को बाहर नहीं निकाला जा सका है। जेसीबी से खुदाई कराई जा रही है।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें