ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशअधूरी प्रेम कहानी; मांग में सिंदूर भरकर फांसी के फंदे से लटकी प्रेमिका, प्रेमी के जेल जाने पर डिप्रेशन में थी युवती

अधूरी प्रेम कहानी; मांग में सिंदूर भरकर फांसी के फंदे से लटकी प्रेमिका, प्रेमी के जेल जाने पर डिप्रेशन में थी युवती

सुलतानपुर में एक प्रेमिका ने सोमवार देर रात अपने प्रेमी के नाम का सिंदूर लगाकर फांसी के फंदे से लटकर आत्महत्या कर ली। जानकारी के मुताबिक प्रेमी के जेल जाने से वह डिप्रेशन में थी।

अधूरी प्रेम कहानी; मांग में सिंदूर भरकर फांसी के फंदे से लटकी प्रेमिका, प्रेमी के जेल जाने पर डिप्रेशन में थी युवती
Pawan Kumar Sharmaहिन्दुस्तान,सुलतानपुरTue, 28 May 2024 05:07 PM
ऐप पर पढ़ें

यूपी के सुलतानपुर से एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। जहां एक किशोरी ने अपने प्रेमी के नाम का सिंदूर मांग में भरा और फिर फांसी के फंदे से लटककर आत्महत्या कर ली। सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस मामले की जांच पड़ताल में जुट गई। जानकारी के मुताबिक हफ्तेभर पहले प्रेमी के जेल जाने से प्रेमिका डिप्रेशन में थी। 

ये घटना लंभुआ कोतवाली क्षेत्र के एक गांव का है। 19 साल के आशीष का पड़ोस में रहने वाली अपनी ही जाति की एक लड़की के साथ डेढ़ साल से प्रेम प्रसंग चल रहा था। दोनों अक्सर चुपके-चुपके मिलते थे। प्यार परवान चढ़ा तो गांव में दोनों के आशिकी चर्चा का विषय बन गई। लड़की के परिजनों ने आशीष के परिवार से शिकायत की लेकिन बात नहीं बनी। कई बार पंचायत भी बैठी लेकिन नजीता नहीं निकला। पारिवारिक दबाव के चलते 12 मई की आधी रात आशीष अपने प्रेमिका के साथ भाग गया। इस पर किशोरी की पिता की तहरीर पर 14 मई को अपहरण की धारा में केस दर्ज हुआ। पुलिस ने 18 मई को आशीष और युवती को ढूंढ निकाला।  

प्रेमी के जेल जाने पर डिप्रेशन में थी प्रेमिका

पुलिस ने किशोरी को परिवार के सुपुर्द कर दिया लेकिन आशीष को अपहरण के मामले में जेल भेज दिया। उधर, प्रेमी के जेल भेजे जाने के बाद से किशोरी डिप्रेशन में आ गई। सोमवार को लंभुआ कोतवाली पुलिस किशोरी को 164 के बयान के लिए लेकर गई थी। लेकिन किसी कारणवश बयान दर्ज नहीं हो सका और मंगलवार को किशोरी को बयान के लिए पुलिस ने कोर्ट ले जाने की बात कही थी। इस बीच सोमवार रात किशोरी खाना खाकर छत पर बने कमरे में सोने चली गई। देर रात साढ़े ग्यारह बजे उसने मांग में सिंदूर भरा और दुप्पटे से फंदा बनाकर उस पर लटक गई। परिजनों को पता चलने पर उन्होंने ग्राम प्रधान को सूचना दी। उधर, जानकारी मिलने पर पुलिस भी मौके पर पहुंची। 

पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार होगी कार्रवाई

इस घटना के बाद से गांव में हड़कंप मच गया। उधर, पुलिस ने फॉरेंसिक टीम बुलाकर साक्ष्य एकत्र किया और रात में ही शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। सीओ लंभुआ अब्दुस सलाम ने बताया कि प्रथम दृष्टया मामला डिप्रेशन में आकर सुसाइड का लग रहा है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है, रिपोर्ट के आधार पर अग्रिम विधिक कार्रवाई की जाएगी।

हाईस्कूल में फेल होने के बाद छोड़ दी थी पढ़ाई

लड़की के पिता राजगीर मिस्त्री हैं। मृतका दो बहन और दो भाई हैं। वो घर में बड़ी थी, पिछले साल हाईस्कूल में फेल होने के कारण उसने पढ़ाई छोड़ दी थी। ग्रामीणों की माने तो दोनों परिवारों के बीच एक-दो बार आपस में सुलाह समझौता भी हुआ था। जब बात नहीं बनी तो बाद में मुकदमा लिखवा दिया गया। वही, आरोपी युवक की दो बहनें हैं। वह सबसे बड़ा है, उसके पिता भी राजगीर मिस्त्री हैं।

Advertisement