Wednesday, January 19, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ उत्तर प्रदेशयूपी टीईटी का पर्चा बेचने वाला गौरव अलीगढ़ से गिरफ्तार, कौन है मास्टरमाइंड? एसटीएफ को मिले कई सुराग

यूपी टीईटी का पर्चा बेचने वाला गौरव अलीगढ़ से गिरफ्तार, कौन है मास्टरमाइंड? एसटीएफ को मिले कई सुराग

हिन्दुस्तान टीम,मेरठDeep Pandey
Tue, 30 Nov 2021 05:29 AM
यूपी टीईटी का पर्चा बेचने वाला गौरव अलीगढ़ से गिरफ्तार, कौन है मास्टरमाइंड? एसटीएफ को मिले कई सुराग

इस खबर को सुनें

यूपी टीईटी परीक्षा का पेपर लीक करने के आरोपी गौरव को एसटीएफ मेरठ और लखनऊ की टीम ने गिरफ्तार कर लिया है। उसे अलीगढ़ से दबोचा गया और पूछताछ की जा रही है। गौरव के नाम का खुलासा शामली से गिरफ्तार आरोपियों ने किया था। उन्होंने बताया था कि गौरव ने ही मथुरा में पेपर उपलब्ध कराया। वहीं, गौरव से पूछताछ के आधार पर कुछ अन्य आरोपियों के धरपकड़ की तैयारी है।

गत रविवार को यूपी टीईटी का पेपर लीक होने के बाद परीक्षा रद्द कर दी गई। एक दिन पहले शनिवार को ही पेपर आउट हो चुका था। मेरठ एसटीएफ ने मामले में शामली से तीन आरोपियों रवि, धर्मेंद्र और मनीष को गिरफ्तार किया। खुलासा हुआ कि इन आरोपियों ने मथुरा से यूपी टीईटी का पेपर हासिल किया। इसके बाद, दो-दो लाख रुपये में इसका सौदा किया। पूछताछ में बताया कि मथुरा के गौरव नाम के युवक से पर्चा खरीदा था। इसके बाद मेरठ और लखनऊ एसटीएफ आरोपी गौरव के पीछे लगी हुई थी। प्रदेश में आठ जगहों पर छापेमारी के बाद 29 आरोपियों को पकड़ा गया। 

19 लोग एसटीएफ की रडार पर
शामली से गिरफ्तार आरोपियों की निशानदेही पर मेरठ और लखनऊ एसटीएफ ने अलीगढ़ के टप्पल निवासी गौरव को रविवार देररात करीब 3 बजे गिरफ्तार कर लिया। उसने आगरा के एक अन्य आरोपी के नाम का खुलासा किया, जो शिक्षा विभाग से जुड़ा हुआ है। इसके अलावा, जिन लोगों को उसने पर्चा बेचा, उनके नाम भी सामने आए हैं। 19 लोग एसटीएफ की रडार पर हैं। 

एसटीएफ ने बागपत और शामली से दो लोगों को उठाया

यूपी टीईटी पर्चा लीक प्रकरण में वेस्ट यूपी में कार्रवाई जारी है। शामली से तीन आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद सोमवार को भी बागपत और शामली से दो लोगों को हिरासत में लिया गया है। इनमें से एक आरोपी कोचिंग सेंटर से जुड़ा है। पूछताछ की जा रही है और मोबाइल कॉल डिटेल समेत व्हाट्सएप चैट का डाटा खंगाला जा रहा है। आरोपियों की 10 दिनों की लोकेशन मोबाइल नंबर के आधार पर देखी जा रही है। 

एसटीएफ मेरठ ने यूपी टीईटी भर्ती परीक्षा का पर्चा लीक होने का खुलासा रविवार को किया था। इसके बाद पूरे प्रदेश में परीक्षा रद कर दी गई थी। शामली से एसटीएफ ने तीन आरोपियों रवि, धमेंद्र, मनीष को गिरफ्तार किया। इन सबके ऊपर बबलू निवासी नाला शामली काम कर रहा था, जो फिलहाल फरार है। बबलू ने ही गौरव से मथुरा में पेपर हासिल किया और बाकी जगहों पर बेचा। गौरव की गिरफ्तारी के बाद बबलू की तलाश की जा रही है। वहीं पकड़े गए आरोपियों की निशानदेही पर मेरठ, बागपत और शामली में ताबड़तोड़ दबिश दी जा रही है।

epaper
सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें