ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशआर्टिफिश‍ियल इंटेलिजेंस सेंसर तकनीक से लैस होगा गंगा एक्सप्रेसवे, 2 विदेशी संस्थानों से हुए एमओयू 

आर्टिफिश‍ियल इंटेलिजेंस सेंसर तकनीक से लैस होगा गंगा एक्सप्रेसवे, 2 विदेशी संस्थानों से हुए एमओयू 

मेरठ से प्रयागराज तक बन रहे गंगा एक्सप्रेसवे पर एयरो सेंसर तकनीक का इस्तेमाल होगा। साथ ही एआई सेंसर माडयूल लागू होगा। इस विश्वस्तरीय तकनीक का इस्तेमाल करने वाला UP पहला राज्य होगा।

आर्टिफिश‍ियल इंटेलिजेंस सेंसर तकनीक से लैस होगा गंगा एक्सप्रेसवे, 2 विदेशी संस्थानों से हुए एमओयू 
Ajay Singhविशेष संवाददाता,लखनऊTue, 11 Jun 2024 09:46 AM
ऐप पर पढ़ें

Ganga Express Way: मेरठ से प्रयागराज तक बन रहे गंगा एक्सप्रेसवे पर एयरो सेंसर तकनीक का इस्तेमाल होगा। साथ ही एआई सेंसर माडयूल लागू होगा। इस विश्वस्तरीय तकनीक का इस्तेमाल करने वाला यूपी पहला राज्य होगा। गंगा एक्सप्रेसवे की इस तकनीक को बाद में अन्य एक्सप्रेसवे पर लागू किया जाएगा। इसके लिए अब ईटीएच ज्यूरिख और आरटीडीटी लेबोटरीज एजी के साथ यूपीडा ने दो अलग-अलग एमओयू किए हैं। 

औद्योगिक विकास आयुक्त मनोज कुमार सिंह ने इन समझौता ज्ञापनों को अहम बताते हुए कहा कि इसके तहत किए जाने वाले काम से गंगा एक्सप्रेसवे की गुणवत्ता बेहतर होगी। मार्गों को बेहतर बनाया जाएगा। इस लिहाज से यह गेम चेंजर होगा। उन्होंने कहा कि पायलट प्रोजेक्ट की सफलता के बाद इस तकनीक को अन्य एक्सप्रेसवे पर लागू किया जाएगा। इससे लाखों उपभोक्ताओं को फायदा होगा। 

इस काम के लिए पिछले साल आईडीसी ने स्विटजरलैंड जाकर इस तकनीक को समझा। बाद में इस तकनीक का मुख्यमंत्री के सामने प्रस्तुतिकरण किया गया। बाद में अधिकारी जर्मनी व स्विटजरलैंड  गए जहां के राष्ट्रीय राजमार्गों के संचालन व ट्रैफिक व्यवस्था का अध्ययन किया।