DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › बरेली में दरिंदगी: बीए की छात्रा से घर में खींचकर किया गैंगरेप, पुलिस ने छेड़छाड़ में दर्ज किया मुकदमा
उत्तर प्रदेश

बरेली में दरिंदगी: बीए की छात्रा से घर में खींचकर किया गैंगरेप, पुलिस ने छेड़छाड़ में दर्ज किया मुकदमा

बरेली। संवाददाताPublished By: Dinesh Rathour
Sun, 26 Sep 2021 11:23 PM
बरेली में दरिंदगी: बीए की छात्रा से घर में खींचकर किया गैंगरेप, पुलिस ने छेड़छाड़ में दर्ज किया मुकदमा

बरेली कॉलेज की छात्रा को घर में खींचकर दबंगों ने गैंगरेप किया। वहीं, पुलिस ने मामले को छेड़खानी में दर्ज कर लिया। इसको लेकर थाने में हंगामा भी हुआ। पुलिस ने छात्रा का मेडिकल करया है। सुभाषनगर थाना क्षेत्र की युवती बरेली कॉलेज की छात्रा है। उसके पिता की मौत हो चुकी है। उसने पुलिस को बताया कि उसकी मां दूसरे शहर गई हुई थी कि शनिवार शाम करीब सात बजे घर में ताला डालकर पास में ही स्थित रिश्तेदार के घर जा रही थी। रास्ते में दबंग करन ने उसे रोक लिया।

आरोप है कि इसके बाद करन ने अपने भांजे राजगिल व उसके कुछ साथियों ने उसे घर में खींच लिया। इसके बाद करन ने दुराचार किया। उधर, पीड़िता का भाई भी घर पर ताला लटका देख रिश्तेदार के घर की ओर चल दिया। आरोपी करन के साथी ने पीड़िता के भाई को देख करन को सूचना दे दी। जिसके बाद करन ने छात्रा को छोड़ दिया। छात्रा डरी सहमी रिश्तेदार के यहां पहुंची और आपबीती सुनाई। जिसके बाद रिश्तेदारों ने मामले की शिकायत सुभाषनगर पुलिस से की। आरोप है कि सुभाषनगर पुलिस ने पीड़िता की ओर से जबरन छेड़छाड़ की तहरीर लिखवाई। इसके बाद छेड़छाड़ का मुकदमा दर्ज कर लिया। 

गैंगरेप का मामला छेड़छाड़ में दर्ज करने पर थाने का घेराव, हंगामा

गैंगरेप की जगह छेड़छाड़ की धारा में रिपोर्ट दर्ज करने पर गुस्साये परिवार वालों ने थाने का घेराव कर हंगामा किया। काफी देर तक हंगामा चलता रहा। बैकफुट पर आई पुलिस ने गैंगरेप की धारा बढ़ाने का आश्वासन दिया और छात्रा को मेडिकल के लिये जिला अस्पताल भेज दिया। छात्रा के साथ गैंगरेप के मामले में छेड़छाड़ की रिपोर्ट दर्ज होने का पता चलते ही शनिवार शाम को छात्रा के परिजनों के साथ कई लोगों ने आकर सुभाषनगर थाने का घेराव कर लिया। जिसके बाद जमकर हंगामा काटा।

पुलिस इस हंगामे को रोकने की नाकाम कोशिशें करती रही। परिजनों का आरोप था कि पुलिस ने आरोपियों को बचाने के लिये उन पर सिर्फ छेड़छाड़ का आरोप लगाया। वहीं, हंगामे के बीच मौजूद पीड़ित छात्रा भी उसके साथ गैंगरेप होने की बात दोहरा रही थी। जिसके बाद सुभाषनगर पुलिस ने आनन-फानन में हंगामे के बीच छात्रा को मेडिकल के लिये जिला अस्पताल भेज दिया। पुलिस ने परिवार को आश्वासन दिया कि मेडिकल रिपोर्ट आने के बाद उसके आधार पर गैंगरेप की धारा बढ़ा दी जायेगी। सीओ द्वितीय आशीष प्रताप सिंह ने कहा कि प्रथम दृष्टया दोनों पक्षों में कहासुनी का मामला सामने आया था। छात्रा की ओर से आरोप लगाने के बाद उसका मेडिकल कराया गया है। जिसके आधार पर ही आगे की कार्रवाई की जायेगी।

संबंधित खबरें