DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दलितों पर अभद्र टिप्पणी के मामले में आजम खां की 22 को कोर्ट में होगी पेशी

azam khan hearing on 22 october

दलितों के खिलाफ अभद्र टिप्पणी करने के आरोप में एससी/एसटी ऐक्ट के तहत विचाराधीन मुकदमे का सामना करने के लिए पूर्व मंत्री आजम खां को विशेष अदालत में 22 अक्तूबर को पेश होना है। वर्ष 2007 में दर्ज इस मामले को सपा सरकार बनने पर 2012 में वापस लेने की कोशिश भी हुई थी। 

यह है मामला 
रामपुर के राजो थाना पर सामाजिक कार्यकर्ता धीरज कुमार ने रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि 7 अगस्त 2007 को टाण्डा में हुई जनसभा में सपा नेता आजम खां ने वर्ग विशेष को अपमानित करते हुए कहा था कि मायावती ने इन लोगों को दरोगा, एसपी, कलक्टर की कुर्सी पर बैठा रखा है। पुलिस ने आईपीसी के अलावा एससी-एसटी ऐक्ट के तहत आरोप पत्र पेश किया। 

27 सितम्बर 2012 को राज्य सरकार के विशेष सचिव ने वाद वापसी का पत्र डीएम को भेजा, जिसे लोक अभियोजक ने कोर्ट में अर्जी के साथ 27 सितम्बर 2012 को पेश किया। वाद वापसी नहीं होने के कारण यह विचाराधीन है।

दुखद: डॉक्टर ने डिलिवरी के दौरान गर्भवती महिला की निकाली बच्चेदानी

टीचर की हैवानियत, मासूम छात्र की पीटकर हत्या, पैर सहित कई पसलियां टूटी

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:former sp minister Azam khan hearing will be in court on 22 october in case of abusive remarks on Dalits