DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मतदान से पहले दलितों की अंगुली में अमिट स्याही लगाने के मामले में पूर्व प्रधान गिरफ्तार

ink on dalits finger before voting

उत्तर प्रदेश में चंदौली जिले के अलीनगर थाना क्षेत्र के जीवनपुर गांव के दलित बस्ती में रविवार की सुबह सीओ सदर त्रिपुरारी पांडेय मय फोर्स पहुंचकर स्याही लगे मतदाताओं को बूथ पर ले जाकर मतदान कराया। वहीं आरोपित पूर्व प्रधान छोटेलाल तिवारी के घर दबिश दी, लेकिन वह फरार हो गया। हालांकि आरोपित को जीवनपुर चौराहे से गिरफ्तार कर लिया। आरोप है कि शनिवार की देर रात पूर्व प्रधान अपने समर्थकों के साथ दलित बस्ती में पैसा देकर लोगों को वोट न देने की अपील कर उंगली में स्याही लगा दिया। पुलिस जबतक मौके पर पहुंचती सभी फरार हो गये। 


जीवनपुर गांव के दलित बस्ती में देर रात पूर्व प्रधान छोटेलाल तिवारी, अमन तिवारी व कतवारू तिवारी गठबंधन को वोट न देने की अपील करते हुए पैसा देने लगे। यहीं नहीं मतदाताओं की अगुंली में स्याही भी लगा रहे थे। इसकी जानकारी होने पर सकलडीहा विधायक प्रभुनारायण यादव अपने समर्थकों के साथ अलीनगर थाना परिसर में धरना पर बैठ गये। इस दौरान उन्होंने आरोपितों की गिरफ्तारी व स्याही लगे सुदर्शन कुमार, नौरंगी देवी, बदामी देवी, बंशीधर, पनारू  सहित आधा दर्जन लोगों को मतदान करने की मांग की। देर रात करीब डेढ़ बजे जिला निर्वाचन अधिकारी  नवनीत सिंह चहल ने सभी को मतदान करने व आरोपित को गिरफ्तार करने का आश्वासन दिया, तब जाकर मामला शांत हुआ। इस क्रम में रविवार की सुबह नौ बजे सीओ सदर त्रिपुरारी पांडेय मय फोर्स जीवनपुर गांव पहुंचकर स्याही लगे लोगों को बूथ पर ले जाकर मतदान कराया। सीओ त्रिपुरारी पांडेय ने बताया कि जिला निर्वाचन अधिकारी के निर्देश पर स्याही लगे लोगों का मतदान करा दिया गया। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:former sarpanch arrested over putting ink on dalit before 7 phase voting in up