DA Image
9 अगस्त, 2020|5:54|IST

अगली स्टोरी

बाढ़ से बिगड़े हालात, सरयू, राप्‍ती, रोहिन खतरे के निशान के पार  

भारी बारिश के कारण नदियों का जलस्तर फिर बढ़ने लगा है। शुक्रवार की सुबह सरयू, राप्ती, गोर्रा, रोहिन के जलस्तर में बढ़ोतरी दर्ज की गई। यह सभी नदियां खतरे के निशान को पहले ही पार कर चुकी हैं। शुक्रवार की शाम चार बजे राप्ती नदी के जलस्तर में थोड़ी गिरावट दिखी लेकिन प्रशासन ने बाढ़ बचाव की तैयारियां पर कड़ी नजर रखनी शुरू कर दी है। शुक्रवार को मण्डलायुक्त जयंत नार्लिकर, डीएम के. विजयेंद्र पाण्डियन, सीडीओ इंद्रजीत सिंह एवं अन्य अधिकारियों ने विभिन्न क्षेत्रों का दौरा कर राहत सामग्री वितरण का निर्देश दिया।
 
शुक्रवार को शाम चार बजे सरयू नदी अयोध्या पुल और तुर्तीपार में चढ़ाव पर रही। राप्ती सुबह तक निरंतर बढ़ रही थी लेकिन शाम 4 बजे के बाद उतरने लगी। रोहिन नदी के जलस्तर में खतरे के निशान को पार कर निरंतर बढ़ाव पर है। जिले के 80 गांव बाढ़ से प्रभावित हैं, जिनमें 19 मैरुण्ड मान लिए गए हैं। इन गांव में छोटी-बड़ी 259 नावों की व्यवस्था की गई है। इसमें से 144 नावें तैनात कर दी गई हैं। सदर क्षेत्र में सर्वाधिक 78 और सहजनवा में 30 नाव लगाई गई हैं। जिले में 86 बाढ़ चौकियां सक्रिय हो गई हैं।

ज्वाइंट मजिस्ट्रेट सदर गौरव सिंह सोगरवाल, सहजनवा अनुज मलिक और तहसीलदार सदर डॉ.संजीव दीक्षित ने सदर और सहजनवा क्षेत्र में बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा कर तटबंधों के सुदृढ़ीकरण, राहत सामग्री के वितरण और राहत शिविरों का निरीक्षण किया। उधर चिकित्सकीय सेवाओं के लिए गठित 48 टीमों ने प्रभावित क्षेत्रों में क्लोरीन की गोली एवं ओआरएस के पैकेट का वितरण कर रही हैं। जिला मुख्यालय पर 265 एंटी स्नेक वेनेम, 16 सीएचसी और पीएचसी पर 523 एंटी स्नेक वेनेम उपलब्ध कराया है। उधर सहजनवा तहसील के ग्राम गाडर एवं ग्राम मुंडा कोडरा में 13 लोग 62 पशुओं के साथ रह रहे हैं। तहसीलदार ने मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डॉ. डीपी शर्मा चारा उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं। 

राहत सामग्री का वितरण 
तहसीलदारों द्वारा की गई मांग के बाद राहत सामग्री का वितरण भी शुरू हो गया है। सदर, सहजनवां व बांसगांव तहसील में एक-एक हजार तारपोलिन शीट प्रभावित परिवारों को दी गई है। कुछ तटबंधों पर कटान की मरम्मत कराई गई।

नदियों की स्थिति शुक्रवार शाम चार बजे
सरयू नदी
स्थल- अयोध्या पुल
खतरे का निशान- 92.73 
वर्तमान स्थिति- 93.09, चढ़ाव पर

स्थल- तुर्तीपार 
खतरे का निशान- 64.01 
वर्तमान स्थिति- 64.31 चढ़ाव पर

राप्ती नदी
स्थल- बर्ड घाट
खतरे का निशान- 74.98
वर्तमान स्थिति- 75.79 उतार पर

रोहिन नदी
त्रिमुहानी घाट
खतरे का निशान- 82.44
वर्तमान स्थिति 83.03 चढ़ाव पर

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:flood fear in gorakhpur rapti rohin and saryu floating above danger line