DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  Kushinagar Internaional Airport: घने कोहरे और अंधेरे में भी उतरेंगे विमान, जानेंं क्‍या चल रही है तैयारी 

उत्तर प्रदेशKushinagar Internaional Airport: घने कोहरे और अंधेरे में भी उतरेंगे विमान, जानेंं क्‍या चल रही है तैयारी 

हिन्‍दुस्‍तान टीम ,कुशीनगर Published By: Ajay Singh
Wed, 21 Oct 2020 07:15 PM
Kushinagar Internaional Airport: घने कोहरे और अंधेरे में भी उतरेंगे विमान, जानेंं क्‍या चल रही है तैयारी 

कुशीनगर इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर घने कोहरे और अंधेरे यानि कम विजिबिलिटी में भी विमान उतरेंगे। इसके लिए यहां डीबीओआर (डाप्लर बेरी ओमनी रेंज) व आईएलएस इंस्ट्रूमेंट लैंडिंग सिस्टम लगेगा। इंस्ट्रूमेंट लगाने के लिए एक्सपर्ट की चार सदस्यीय टीम ने बुधवार को दिल्ली से पहुंचकर निरीक्षण करने के बाद जगह फाइनल कर दी। 

एयरपोर्ट पर यह सिस्टम लग जाने के बाद 550 मीटर तक की दृश्यता में भी विमान लैंड कर सकेंगे। जब तक यह सिस्टम नहीं लग जाएगा तब तक डीजीसीए द्वारा दिन यानी साफ मौसम में ही उड़ान होने का लाइसेंस जारी रहेगा। 

कुशीनगर इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर निर्माण कार्य लगभग पूरे हो चुके हैं। यहां दिन में कभी भी छोटी विमान से लेकर चार सौ सीटर विमान आ जा सकता है। इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर कम विजीबिलटी में भी विमान को उतर सकें, इसके लिए इंस्ट्रूमें लगाना जरूरी है। इसी उद्देश्य से चार सदस्यीय टीम बुधवार को दोपहर में एयरपोर्ट पर पहुंची। टीम का नेतृत्व संयुक्त महाप्रबंधक जगतार सिंह कर रहे थे। इक्यूपमेंट लगाने को लेकर टीम ने परिसर में उपयुक्त एक दर्जन स्थल का चयन किया। सभी स्थल परफेक्ट मिले। टीम एयरपोर्ट का परिसर व रनवे देखकर गदगद हो गई।  

संयुक्त महाप्रबंधक ने बताया कि कम विजिबिलटी पर जहाज उतरने का सिस्टम जिन स्थानों पर लगाया जाना है, वह स्थल परफेक्ट हैं। सिस्टम लग जाने के बाद दिन रात कभी भी जहाज डोमेस्टिक हो या इंटरनेशनल, उतर सकती है। अभी डायरेक्टर जनरल सिविल एविएशन (डीजीसीए) की टीम आएगी तो सिर्फ दिन में साफ मौसम को लेकर ही लाइसेंस जारी करेगी। जब चौबीसों घंटे की सुविधा बहाल हो जाएगी तो यहां देशी विदेशी एयरलाइंस के अनेक कम्पनियों का तांता लग जाएगा। एयरपोर्ट पर उड़ान से पूर्व की तैयारियां अंतिम चरण में चल रही हैं। तैयारियों पर डीजीसीए की मुहर लगने के बाद व्यावसायिक विमानों की उड़ान कभी भी शुरू की जा सकेगी।

मौसम विभाग भी लगाएगा सभी तरह के उपकरण
टीम में मौसम विभाग के एक्सपर्ट भी शामिल थे। मौसम विभाग यहां सभी जरूरी उपकरण लगाएगा। जिससे एटीसी को मौसम की स्थिति, पूर्वानुमान आदि की जानकारी मिलती रहे। सिस्टम लगाने के लिए टीम ने जगह का सर्वे किया। टीम में उप महाप्रबन्धक मनजीत सिंह, सहायक महाप्रबन्धक अंकुर सिंह, मो. नसीम वरिष्ठ प्रबन्धक कम्युनिकेशन व नेविगेशन, गोरखपुर एयरपोर्ट के डायरेक्टर एके द्विवेदी,  मौसम वैज्ञानिक टीबी सिंह के अलावा कुशीनगर एयरपोर्ट के उप महाप्रबंधक एटीसी संजय कुमार नारायण शामिल रहे।

संबंधित खबरें