DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  माघ पूर्णिमा पर गंगा स्नान करने गए आठ लोग नदी में डूबे, गोताखोरों ने पांच को बचाया

उत्तर प्रदेशमाघ पूर्णिमा पर गंगा स्नान करने गए आठ लोग नदी में डूबे, गोताखोरों ने पांच को बचाया

कासगंज। हिन्दुस्तान ब्यूरोPublished By: Dinesh Rathour
Sat, 27 Feb 2021 07:37 PM
माघ पूर्णिमा पर गंगा स्नान करने गए आठ लोग नदी में डूबे, गोताखोरों ने पांच को बचाया

यूपी के कासगंज में माघ माह की पूर्णिमा पर शनिवार को गंगाघाटों पर स्नान करने गए आठ लोग गंगा में डूब गए। पुलिस व गोताखोरों ने तुरंत कार्रवाई कर पांच युवकों को बचा लिया, लेकिन तीन की तलाश जारी है। घटना पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट कर आला अफसरों को पीड़ितों की मदद के निर्देश दिए थे। डीएम और पुलिस अफसर गोताखोरों की टीम लेकर डूबे लोगों की तलाश करने में जुट  गये।

पुलिस के मुताबिक पहला हादसा गंजडुंडवारा के कादरगंज घाट पर हुआ। यहां बढ़ौला निवासी हिमांशु, सत्यम, शिवम, गोविंद और दिल्ली निवासी अनुज पूर्णिमा पर स्नान करने कादरगंज घाट पहुंचे। पांचों युवक गंगा में स्नान करने एक साथ घुसे और गहरे पानी की ओर चले गए। अचानक वे डूबने लगे और शोर मचाना शुरू किया तो गंगाघाट पर मौजूद लोगों ने उन्हें बाहर निकालने के प्रयास शुरू किए। गोताखोरों ने हिमांशु, सत्यम व शिवम को तो बाहर निकाल लिया, लेकिन गोविंद व अनुज गंगा के बहाव में बह गए। 

घटना की सूचना के बाद डीएम चंद्र प्रकाश सिंह व पुलिस बल मौके पर पहुंच गया। दो स्टीमरों और छह गोताखोरों ने गोविंद व अनुज की तलाश शुरू कर दी। गोताखोर शाम तक दोनों का ही पता नहीं लगा सके थे। शनिवार दोपहर को दूसरी घटना सहावर के शहबाजपुर गंगाघाट पर हुई। गांव खोजपुर में भागवत कथा का आयोजन हुआ था। उसके समापन पर लोग कलश विसर्जन करने व गंगा स्नान करने गए थे। गांव नागर निवासी भूपेंद्र, खोजपुर का वीरेश और खिजरपुर निवासी प्रशांत जैसे ही गंगा में घुसे उनका पैर गहरे गड्ढे में चला गया। तीनों को डूबता देखकर वहां मौजूद गोताखोरों ने भूपेंद्र व वीरेश को तो बाहर निकाल लिया लेकिन प्रशांत गंगा में बह गया। इससे कलश विसर्जन में गये लोगों में अफरातफरी मच गई। प्रधान मनोज ने तुरंत तीन युवकों के गंगा में डूबने की जानकारी सुन्नगढ़ी पुलिस को दी। पुलिस गोताखोरों की मदद से तीसरे युवक प्रशांत की गंगा में तलाश कर रही है। 

सीएम के निर्देश से प्रशासन और सक्रिय 
कासगंज। माघ पूर्णिमा पर स्नान के दौरान युवकों के गंगा में डूबने की घटना का मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने संज्ञान लिया है। सीएम ने ट्वीट कर जिलाधिकारी को तेजी से बचाव कार्य चलाने व पीड़ित परिवारों की मदद करने के निर्देश दिये। सीएम के निर्देश पर प्रशासन व पुलिस के आला अफसर बचाव कार्य करने में लगे हुए हैं।

संबंधित खबरें