ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News उत्तर प्रदेशबहराइच में आतंक का पर्याय बनी मादा तेंदुआ जाल में फंसी, चिड़ियाघर भेजने की तैयारी

बहराइच में आतंक का पर्याय बनी मादा तेंदुआ जाल में फंसी, चिड़ियाघर भेजने की तैयारी

उत्तर प्रदेश में बहराइच जिले के नानपारा वन रेंज में लोगों के लिए मुसीबत का सबब बनी एक मादा तेंदुआ वन विभाग द्वारा लगाए गए पिंजरे में मंगलवार की कैद हो गई है। इसे अब चिड़ियाघर या जंगल भेजा जाएगा।

बहराइच में आतंक का पर्याय बनी मादा तेंदुआ जाल में फंसी, चिड़ियाघर भेजने की तैयारी
Yogesh Yadavवार्ता,बहराइचTue, 28 Nov 2023 06:03 PM
ऐप पर पढ़ें

उत्तर प्रदेश में बहराइच जिले के नानपारा वन रेंज में लोगों के लिए मुसीबत का सबब बनी एक मादा तेंदुआ वन विभाग द्वारा लगाए गए पिंजरे में मंगलवार की कैद हो गई है। वन विभाग द्वारा उसका स्वास्थ्य परीक्षण करवाया जा रहा है। स्वास्थ्य परीक्षण के बाद उसे जंगल या चिड़िया घर में भेजा जाएगा।

बहराइच वन प्रभाग के नानपारा रेंज के विभन्नि गांवों में अगस्त माह से मादा तेंदुआ अपने शावकों के साथ भ्रमण कर रही थी। शावकों की सुरक्षा के लिए मादा तेंदुआ लोगों पर हमला कर रही थी। तेंदुआ को पकड़ने के लिए वन मुख्य वन संरक्षक की ओर से बाराबंकी के डीएफओ आकाशदीप वधावन को बहराइच वन प्रभाग का जम्मिा देकर तेंदुआ को पकड़ने के लिए लगाया गया।

डीएफओ आकाशदीप वधावन की अगुवाई में तीन दिन पूर्व एक तेंदुए के शावक को पकड़ा गया था। मंगलवार सुबह शावक की तलाश में मादा तेंदुआ भी दौलतपुर ग्राम पंचायत लोनियनपुरवा गांव में लगे पिंजड़े में कैद हो गई। यह क्षेत्र लखीमपुर और बहराइच की सीमा पर स्थित है। 

डीएफओ ने बताया कि मादा तेंदुआ पकड़ ली गई है। दुधवा नेशनल पार्क के पशु चिकत्सिक दया शंकर की अगुवाई में रेंज कार्यालय स्वास्थ्य परीक्षण के लिए तेंदुए को लाया गया है। स्वास्थ्य परीक्षण और उच्च अधिकारियों की सूचना के बाद तेंदुए को जंगल या चिड़िया घर भेजा जाएगा। उन्होंने बताया कि अभी एक शावक और विचरण कर रहा है। उसे भी पकड़ लिया जाएगा।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें