DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  नकली इंजेक्शन केस में भाजपा नेता की गिरफ्तारी पर पिता ने उठाए सवाल
उत्तर प्रदेश

नकली इंजेक्शन केस में भाजपा नेता की गिरफ्तारी पर पिता ने उठाए सवाल

प्रमुख संवाददाता ,कानपुर Published By: Amit Gupta
Mon, 07 Jun 2021 04:46 PM
नकली इंजेक्शन केस में भाजपा नेता की गिरफ्तारी पर पिता ने उठाए सवाल

ब्लैक फंगस के नकली इंजेक्शन केस में जेल भेजे गए भाजपा नेता के पिता ने बेटे को बेकसूर बताते हुए पुलिस कार्रवाई पर सवाल उठाए हैं। पिता का आरोप है कि पुलिस ने उसे फंसाया है। गिरफ्तारी से लेकर जेल भेजने तक की कार्रवाई को गलत बताते हुए कुछ सीसीटीवी फुटेज भी सार्वजनिक किए हैं। 

27 मई को कर्नलगंज पुलिस ने भाजपा नेता प्रकाश मिश्रा और ज्ञानेश शर्मा को ब्लैक फंगस के नकली इंजेक्शन के साथ गिरफ्तार किया था। पुलिस ने दावा किया था कि दोनों आरोपित ब्लैक फंगस में प्रयोग होने वाले इंजेक्शन की नकली खेप की कालाबाजारी करते हैं। दोनों के पास से 68 इंजेक्शन बरामद भी हुए थे। इनके अलावा पुलिस ने घटना के तीन दिन बाद पहले प्रयागराज के दो दवा कारोबारियों और फिर लखनऊ के एक मेडिकल स्टोर संचालक को जेल भेजा था। भाजपा नेता प्रकाश के पिता जनार्दन मिश्रा ने इस मामले में रविवार को प्रेसवार्ता की। उन्होंने फजलगंज स्थित एक पेट्रोल पंप का सीसीटीवी फुटेज सार्वजनिक किया। इसमें पुलिसकर्मी प्रकाश और ज्ञानेश को पकड़ते नजर आ रहे हैं। इसके बाद ज्ञानेश को लेकर उसके अपार्टमेंट जाते हैं। यह घटनाक्रम 27 मई की शाम करीब तीन से छह बजे के बीच का है।

फुटेज के आधार पर जनार्दन का कहना है कि पुलिस ने अपने मन से पूरी कहानी रची थी। पुलिस ने उसे फजलगंज से पकड़ा और गिरफ्तारी ग्वालटोली से दिखाई है। जनार्दन का कहना है कि उनके बेटे की महज इतनी गलती है कि वह ज्ञानेश का दोस्त है और घटना के दिन उसके साथ था। न तो उसके पास से इंजेक्शन बरामद हुए हैं और न ही उसकी गाड़ी है। उन्होंने पुलिस अधिकारियों से मांग की कि वह सीडीआर निकलवाएं जिससे असलियत का पता चल सके।

संबंधित खबरें