Father did Tuladan of his son due to Superstition in Gonda Uttar Pradesh - अजब हाल: अंधविश्वास में बेटे पर पाप धोने के लिए कराया तुलादान DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अजब हाल: अंधविश्वास में बेटे पर पाप धोने के लिए कराया तुलादान

अंधविश्वास में बेटे पर पाप धोने के लिए कराया तुलादान

गोण्डा के इटियाथोक थानाक्षेत्र के गांधी चबूतरा गांव के पास रूढ़िवादिता, आडम्बर व अंधविश्वास की जीती जागती मिसाल दिखी। जब एक दलित परिवार के मासूम द्वारा आवेश में ईंट से प्रहार करने की सजा उसे स्वयं के बराबर तुला दान कर भोगने पर गांव वाले मजबूर करते नजर आए।

पीड़ित परिवार के गृहस्वामी अशोक ने बताया कि उसका मासूम दस वर्षीय बेटा रोहित अपने घर पालतू बछिया को चारा खिला रहा था कि अचानक बछिया ने उसे सींग मार दिया। जिससे आवेश मे आकर रोहित ने ईट से उस पर प्रहार किया और मौके पर ही बछिया की मृत्यु हो गई। इसकी उलाहना गांव वालों के बार-बार देने पर अशोक ने गांधी चबूतरा के पास स्नान कराकर सड़क के किनारे लगे पेड़ से लटका कर बेटे के बराबर मिट्टी, पंचमेली अनाज व अन्य सामग्री का तुलादान किया और वहां मौजूद लोंगो के पैर छुआकर अनजाने में की गयी गलती के लिये क्षमा मंगवाई।

गांव की परम्परा बताते हुए गंगापुर के रहने वाले साई फकीर चांदबाबू ने बताया कि हत्यारी लगने के बाद पश्च्याताप के लिये उसका परिवार कई पीढियो से तुलादान कराकर पाप से मुक्त कर देता है। हालांकि दान सामग्री साई फकीर का परिवार स्वयं ले लेता है। सवाल इस बात का है कि जहां एक ओर सरकार बुलेट की बात कर रही है वहीँ दूसरी ओर ग्रामीण अंचलों में आज भी रूढ़िवादी अंधविश्वास समाप्त नही हो पायी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Father did Tuladan of his son due to Superstition in Gonda Uttar Pradesh