ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशझूठा निकला भाजपा का हर वायदा, समाजवादी योजनाओं को कर रही फ्लॉप, बीजेपी सरकार पर अखिलेश का हमला

झूठा निकला भाजपा का हर वायदा, समाजवादी योजनाओं को कर रही फ्लॉप, बीजेपी सरकार पर अखिलेश का हमला

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने शनिवार को केंद्र प्रदेश की भाजपा सरकार पर जोरदार हमला बोला। कहा कि पिछले 10 सालों में भाजपा सरकार का हर वायदा झूठा निकला।

झूठा निकला भाजपा का हर वायदा, समाजवादी योजनाओं को कर रही फ्लॉप, बीजेपी सरकार पर अखिलेश का हमला
former-uttar-pradesh-chief-minister-akhilesh-yadav jpg
Dinesh Rathourवरिष्ठ संवाददाता ,गोरखपुर।Sat, 25 May 2024 07:24 PM
ऐप पर पढ़ें

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने शनिवार को केंद्र प्रदेश की भाजपा सरकार पर जोरदार हमला बोला। उन्होंने कहा कि पिछले 10 सालों में भाजपा सरकार का हर वायदा झूठा निकला है। दिल्ली से लखनऊ तक जनता परेशान है। किसानों की आय दोगुनी हुई नहीं। अलबत्ता उन पर जीएसटी का बोझ, खाद की बोरी से 10 किलो की चोरी और नैनो यरिया खरीदने का दबाव ने फसल की लागत बढ़ा दी। कर्ज वसूली के लिए किसानों पर दबाव बनाया जा रहा है। जबकि भाजपा नेताओं के मित्र उद्योगपति विदेश भाग चुके हैं। 

शनिवार को अखिलेश यादव इंडिया गठबंधन से गोरखपुर सदस्य लोकसभा से समाजवादी पार्टी की प्रत्याशी काजल निषाद और बांसगांव से कांग्रेस के प्रत्याशी सदल प्रसाद के पक्ष में चुनावी जनसभा को संबोधित कर रहे थे। सहारा एस्टेट के क्रिकेट ग्राउंड में आयोजित जनसभा में भीड़ देखकर अखिलेश यादव गदगद हो गए। उन्होंने कहा कि प्रदेश में नौजवानों के साथ धोखा हो रहा है। सूबे में 10 से ज्यादा परीक्षाओं के पेपर लीक हो गए। यह सरकार गरीबों को डराने के लिए बुलडोजर उनके घरों पर चलती है। लेकिन पेपर लीक करने वालों पर सरकार मेहरबान है। सरकार ने ही जानबूझकर पेपर लीक करवाए हैं। उन्होंने इसे समुद्र मंथन की तरह संविधान मंथन का चुनाव करार दिया। कहा कि यह संविधान को बचाने का चुनाव है। भाजपा सरकार के खिलाफ सातवें चरण के मतदान में जनता का गुस्सा सातवें आसमान पर रहेगा।

सीएम योगी पर बोला हमला 

शनिवार को अखिलेश यादव के निशाने पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी रहे। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान मुख्यमंत्री अपने शहर में काम्प्लेक्स तो बनवा रहे हैं लेकिन नाली का पानी नहीं निकलवा पा रहे हैं।  बरसात आने वाली है । बरसात में यहां नाव की जरूरत पड़ती है। मुख्यमंत्री बनने के बाद उन्होंने शहर में मेट्रो चलवाने का वायदा किया था। आज तक उसका कहीं पता नहीं है। उन्होंने कहा कि पूर्वांचल एक्सप्रेसवे से गोरखपुर को जोड़ने के लिए एक लिंक एक्सप्रेस वे बन रहा है। 90 किलोमीटर के इस लिंक एक्सप्रेस वे की लागत करीब 6000 करोड़ रुपए आई है। प्रदेश के 60 लाख नौजवान नौकरी की तलाश में है। उनके परिवार भुखमरी की कगार पर पहुंच गए हैं।

लोक कल्याण की सपा की योजनाओं को जानबूझकर कर रही फ्लाप 

सपा सुप्रीमो ने सूबे के मुखिया को आड़े हाथों लिया। उन्होंने कहा कि सूबे के मुखिया जानबूझकर लोक कल्याण की सपा की योजनाओं को फ्लाप करने की साजिश कर रहे हैं। सपा ने युवाओं को उच्च गुणवत्ता के लैपटॉप दिए थे। इस सरकार ने नकल करने की कोशिश की लेकिन लैपटॉप खराब बांट दिए। अब वह डिब्बे में बंद है। सपा सरकार की दी हुई एंबुलेंस को खराब कर दी। एम्स के लिए सपा ने जमीन दी लेकिन आज भी गरीबों का इलाज नहीं हो रहा है। बीआरडी मेडिकल कॉलेज में 500 बेड के सुपर स्पेशलिटी चिकित्सा संस्थान को एक वार्ड बनाकर रख दिया है। यह सरकार सिर्फ इलेक्टोरल बांड से पैसा वसूलना जानती है। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार ने राशन से चना, रिफाइंड व नमक को गायब कर दिया है। सपा सरकार इसे वापस देगी। इसकी गुणवत्ता बढ़ाएगी। इसमें पैकेट वाला आटा और मोबाइल के लिए डाटा भी फ्री में देगी। 

चुनाव के बाद मुम्बई भाग जाएंगे प्रत्याशी 

सपा सुप्रीमों के निशाने पर अभिनेता प्रत्याशी भी रहे। उन्होंने कहा कि मुम्बई वाले लोग भाजपा की पसंद हैं ।यह नेता चुनाव के बाद गायब हो जाते हैं। मेरठ और अमेठी वाले प्रत्याशी वापस भाग चुके हैं। यहां वाले भी मुम्बई का टिकट कटा चुके हैं।

दो जून की रोटी के लिए घर से निकले एक जून को

सपा प्रत्याशी काजल निषाद ने कहा कि इस सरकार में किसान, बेरोजगार व महिलाएं त्रस्त हैं। लोगों का रोजगार छिन रहा है। यह राम के नहीं हैं। राम सभी के हैं। दो जून की रोटी के लिए लोगों को एक जून के घर से निकलना होगा। मतदान करें। 

लचर रहा इंतजाम, वालंटियर नदारद, टूटी कुर्सियां

सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव और कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी की इस संयुक्त जनसभा में उमड़ी भीड़ ने आयोजकों के चेहरे खिला दिए। हालांकि इंतजाम लचर रहा। समर्थकों के खड़े होने के कारण कुर्सियां टूट गई। भीड़ को नियंत्रित करने के लिए वालंटियर नदारत रहे। हालत यह रही कि मंच पर भी क्षमता से अधिक लोग पहुंच गए। यह देखकर सुरक्षा कर्मियों के पसीने छूट गए। मीडियाकर्मियों के स्टैंड में कार्यकर्ताओं ने धक्का-मुक्की की। यहां पर पुलिस को तैनात करना पड़ा। 

कूलर में उतर करंट 

इस दौरान कार्यकर्ताओं के लिए लगे कूलर में करंट उतरने से भी भगदड़ मच गई थी। बताया जा रहा है कि यह कूलर आम जनता के पंडाल की तरफ लगा हुआ था। एक कूलर में करंट आने लगा। उसके आसपास मौजूद कई लोगों को करंट के झटके लगे। इसके बाद उसका कनेक्शन कटवाया गया।