DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   उत्तर प्रदेश  ›  छह दिन से शादी के लिए अड़ी प्रेमिका का धरना खत्म, मंदिर में प्रेमी संग लिए सात फेरे

उत्तर प्रदेशछह दिन से शादी के लिए अड़ी प्रेमिका का धरना खत्म, मंदिर में प्रेमी संग लिए सात फेरे

संवाददाता,सौरिख सकरावा (कन्नौज)। Published By: Dinesh Rathour
Mon, 24 May 2021 09:15 PM
छह दिन से शादी के लिए अड़ी प्रेमिका का धरना खत्म, मंदिर में प्रेमी संग लिए सात फेरे

अपने प्यार को पाने के लिए छह दिनों से धरने पर बैठी इटावा की शिवा यादव ने आखिरकार अपनी जंग जीत ही ली। उसकी जिद के आगे न सिर्फ प्रेमी अनुज यादव बल्कि उसके परिवार को झुकना पड़ा। सोमवार की शाम दोनों ने पास के ही एक मंदिर में एक-दूसरे को वरमाला पहना कर जिंदगी का नया सफर शुरू किया। कन्नौज जिले के नगला विशुन गांव निवासी अनुज यादव से शादी के लिए इटावा जिले के भरथना की रहने वाली शिवा यादव 19 मई को अनुज के घर पहुंची थी। अनुज व उसके परिजनों ने शादी से इंकार किया तो शिवा घर के बाहर धरने पर बैठ गई। इस पर अनुज और उसके परिजन मकान में ताला डालकर फरार हो गए।

पिछले छह दिनों से युवती को कई मुश्किलों का सामना करना पड़ा। शादी न होती देख युवती ने आत्मदाह की धमकी तक दे डाली। सुरक्षा की दृष्टि से गांव में पुलिस तैनात की गई लेकिन बाद में उसे भी हटा लिया गया। आखिरकार सोमवार को शिवा की जिद रंग लाई, सकरावा स्थित श्रीबालाजी धाम मंदिर पर सभी रस्मों रिवाज के साथ पं. रमन शर्मा ने दोनों की शादी संपन्न कराई। शिवा-अनुज ने एक दूसरे को वरमाला पहनाई तो मंदिर परिसर तालियों की गड़गड़ाहट से गूंज उठा। एक औपचारिक कार्यक्रम के दौरान अनुज के माता-पिता और शिवा के पिता के अलावा कुछ रिश्तेदार शामिल हुए। शिवा की मां इस कार्यक्रम में शामिल नहीं पहुंची।

एक साल पहले शुरू हुई थी प्रेम कहानी
इस प्रेम कहानी की शुरुआत लगभग एक वर्ष पहले शुरू हुई थी। भरथना निवासी शिवा की कन्नौज के नगला विशुना गांव निवासी अनुज यादव से प्यार हो गया। प्यार जब परवान चढ़ा तो कुछ दिन पहले दोनों घर से भाग गए। युवती के पिता ने भरथना थाने में अनुज के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया। इसी बीच युवक उसे को लेकर अपने घर पहुंच गया, तो युवक के परिजनों ने युवती को अपनाने से इंकार कर दिया। इसके बाद युवक भी मुकर गया तो युवती ने अपने प्रेमी को पाने के लिए संघर्ष शुरू किया।

मीडिया का जताया आभार
मंदिर में विवाह की रस्म पूरी होने के बाद शिवा ने मीडिया का दिल से आभार जताया और कहा उसने जो संघर्ष किया उसमें मीडिया ने सार्थक रूप से उसका पूरा सहयोग किया। उसी का परिणाम है कि आज उसे जीत हासिल हुई है। इस दौरान अनुज बिल्कुल शांत बना रहा है, उसने कुछ भी बोलने से इंकार कर दिया।

 

संबंधित खबरें