DA Image
हिंदी न्यूज़ › उत्तर प्रदेश › बैंक धोखाधड़ी मामले में ED ने यूपी के बसपा विधायक के खिलाफ दर्ज किया केस, CBI पहले से कर रही जांच
उत्तर प्रदेश

बैंक धोखाधड़ी मामले में ED ने यूपी के बसपा विधायक के खिलाफ दर्ज किया केस, CBI पहले से कर रही जांच

भाषा ,नई दिल्‍ली Published By: Ajay Singh
Wed, 27 Jan 2021 06:40 PM
बैंक धोखाधड़ी मामले में ED ने यूपी के बसपा विधायक के खिलाफ दर्ज किया केस, CBI पहले से कर रही जांच

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने बैंक ऑफ इंडिया के नेतृत्व वाले बैंकों के एक समूह से 750 करोड़ रुपये से अधिक की कथित धोखाधड़ी की जांच के लिए उत्तर प्रदेश के बसपा विधायक विनय शंकर तिवारी और अन्य के खिलाफ धनशोधन (money laundering) का एक मामला दर्ज किया है। आधिकारिक सूत्रों ने बुधवार को यह जानकारी दी। 

केंद्रीय जांच एजेंसी के लखनऊ स्थित क्षेत्रीय कार्यालय ने धनशोधन रोकथाम कानून के विभिन्न प्रावधानों के तहत चिल्लूपार(गोरखपुर) से विधायक और लखनऊ स्थित कंपनी गंगोत्री इंटरप्राइजेज के खिलाफ एक ईसीआईआर (प्रवर्तन मामला सूचना रिपोर्ट) दर्ज की है।

ईसीआईआर, पुलिस प्राथमिकी के समान होती है। तिवारी (54), पूर्व मंत्री एवं गोरखपुर के बाहुबली नेता रहे हरिशंकर तिवारी के पुत्र हैं। सूत्रों ने बताया कि ईडी ने विनय, उनकी पत्नी रीता, गंगोत्री इंटरप्राइजेज सहित अन्य के खिलाफ अपनी ईसीआईआर दर्ज करने के लिए पिछले साल अक्टूबर में सीबीआई द्वारा दर्ज की गई एक प्राथमिकी का अध्ययन किया। 

सीबीआई ने शिकायत दर्ज करने के बाद लखनऊ और नोएडा में छापे भी मारे थे। कथित धोखाधड़ी बैंक ऑफ इंडिया नीत बैंकों के समूह के खिलाफ की गई, जो 754.25 करोड़ रूपये की है। अधिकारिक सूत्रों के मुताबिक, ईडी की जांच के दायरे में ऐसे कम से कम चार दृष्टांत हैं, जिनके चलते बैंक के धन को दूसरे मद में ले जाया गया और उसमें अनियमितता बरती गई। 

संबंधित खबरें