ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News उत्तर प्रदेशलखनऊ में बिना अनुमति नहीं उड़ा सकेंगे ड्रोन, नियम तोड़ने पर सख्त कार्रवाई

लखनऊ में बिना अनुमति नहीं उड़ा सकेंगे ड्रोन, नियम तोड़ने पर सख्त कार्रवाई

लखनऊ के होटलों व रिसार्ट को लेकर भी सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है। लखनऊ में बिना अनुमति ड्रोन नहीं उड़ा सकेंगे। नियम तोड़ने पर सख्त कार्रवाई के आदेश दिए गए हैं।

लखनऊ में बिना अनुमति नहीं उड़ा सकेंगे ड्रोन, नियम तोड़ने पर सख्त कार्रवाई
shark-patrols-new-york-5 jpg
Deep Pandeyहिन्दुस्तान,लखनऊThu, 11 Jan 2024 10:37 AM
ऐप पर पढ़ें

 अयोध्या में 22 जनवरी को प्राण प्रतिष्ठा के मद्देनजर लखनऊ के होटलों व रिसार्ट को लेकर भी सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है। तय हुआ है कि होटल-रिसार्ट में होने वाले शादी समारोह या अन्य आयोजनों में ड्रोन उड़ाने के लिए अनुमति जरूरी है। बिना अनुमति ड्रोन उड़ाने पर पुलिस की ओर से सख्त कार्रवाई की जायेगी। जेसीपी ने होटल एसोसिएशन के पदाधिकारियों से कहा है कि इस नियम का पालन जरूर कराया जाये।जेसीपी कानून-व्यवस्था उपेन्द्र कुमार अग्रवाल ने होटल एसोसिएशन से कहा कि वैसे भी होटल या रिसार्ट में ड्रोन उड़ाने के लिये अनुमति जरूर ली जानी चाहिये। बताया जाता है कि प्राण प्रतिष्ठा के दौरान कई उड़ान लखनऊ के ऊपर से होते हुये अयोध्या एयरपोर्ट जायेंगी। कई वीआईपी के चार्टड प्लेन व अन्य उड़ाने विभिन्न स्थानों से लखनऊ आयेंगी। यहां से लोग सड़क मार्ग से अयोध्या के लिये रवाना होंगे। इसको देखते हुए ही ड्रोन उड़ाने पर सख्ती बरती जा रही है।

जेसीपी ने बताया कि ड्रोन उड़ाने पर कोई रोक नहीं लगायी गई लेकिन होटल के अंदर होने वाले कार्यक्रमों में ड्रोन का इस्तेमाल होता है तो उसकी अनुमति जरूर लेने को कहा गया है। इससे पुलिस के पास ड्रोन उड़ाने का डाटा रहेगा। जरूरत के हिसाब से इसे रोका जा सकता है।

उन ड्राइवरों को ही भेजें जिनका सत्यापन हुआ हो

जेसीपी ने टूर एंड ट्रैवेल एजेन्सियों के पदाधिकारियों से अपील की है कि अयोध्या जाने वाली बुकिंग में उन ड्राइवरों को ही भेजें जिनका चरित्र सत्यापन कराया जा चुका हो। इससे ड्राइवर के बारे में सारी जानकारी रहेगी। इन ड्राइवरों को अयोध्या जाने वाले वैकल्पिक मार्गों की पूरी जानकारी दी जाये। इसके लिये उन्हें एक रूट मैप भी दिया जाये ताकि अगर कोई श्रद्धालु या पर्यटक रास्ते के बारे में जानना चाहे तो ड्राइवर उन्हें सही जानकारी दे सके। अयोध्या जाने वाली सभी गाड़ियों में जीपीएस लगाने को कहा गया है।

थानेदारों से होटल का ब्योरा रखने को कहा

जेसीपी ने थानेदारों से कहा है कि वह अपने इला़के के होटल का पूरा ब्योरा रखे और उनके प्रबंधन से संपर्क कर ले। प्रमुख होटलों में हेल्प डेस्क को चेक कर ले। ट्रैवेल डेस्क पर कह दे कि वे लोग अयोध्या जाने वालों को वैकल्पिक मार्ग की पूरी जानकारी दे।